क्या धरती के बाद अब यहां बसेगा इंसान?

0
301

New Planet: वैज्ञानिकों ने की इस नए ग्रह की खोज

New Planet: अंतरिक्ष अपने अंदर कई रहस्य समेटे हुए है, इन्हीं रहस्यों को सुलझाने के लिए वैज्ञानिक आए दिन शोध करते रहते हैं। इन्हीं शोधों के दौरान अब वैज्ञानिकों के हाथ एक बड़ी उपलब्धी लगी है। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा ग्रह (New Planet) खोज निकाला है जिसमें जीवन संभव है।

आपको बता दें कि वैज्ञानिकों द्वारा अबतक हमारे सौर मंडल के बाहर 5000 से भी ज्यादा ग्रहों को खोजा जा चुका है, लेकिन इन ग्रहों में से केवल 200 ही ऐसे ग्रह है जिनमें जीवन संभव है। इसी बीच वैज्ञानिकों द्वारा एक नए ग्रह की खोज की गई है जिसका नाम है Wolf 1069b (New Planet). एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक, यह हमारी धरती से महज 31 प्रकाश वर्ष दूर है।

आपको बता दें कि इस ग्रह (New Planet) की खोज पूरी दुनिया के 50 वैज्ञानिक मिलकर कर रहे थे। इन वैज्ञानिकों का कहना है कि बाकी के ग्रहों में से इस ग्रह की खोज इसलिए ज़रूरी थी क्योंकि एक तो इस ग्रह की जमीन पथरीली है, इसके बाद ये ग्रह अपने तारे Wolf 1069 की परिक्रमा कर रहा है जो कि इतनी दूरी पर स्थित कि यहां जीवन संभव हो सकता है।        

ये भी पढ़ें:
Mandi Tribe Bangladesh
इस जनजाती के मर्द अपनी ही बेटी के जवान होने पर करते हैं उनसे शादी

इन वैज्ञानिकों का कहना है कि Wolf 1069b (New Planet) अपने तारे का चक्कर 15 दिन में पूरा करता है। आगे उन्होंने इसका एक उदाहरण भी दिया कि कैसे यहां जीवन संभव है। दरअसल बुध ग्रह अपने तारे सूरज से काफी नजदीक है और तब भी इसे सूरज का चक्कर लगाने में 88 दिन का वक्त लगता है। सूर्य के इतने करीब होने के कारण ही बुध ग्रह का तापमान 430 डिग्री सेल्सियस रहता है।

वहीं Wolf 1069b (New Planet) की बात करें तो ये अपने तारे का चक्कर मात्र 15 दिनों में ही लगा लेता है, मगर ये रहने लायक दूरी पर स्थित है। इसके साथ ही Wolf 1069 सूरज की तुलना में करीबन 65 प्रतिशत कम रेडिएशन छोड़ता है, जिसके कारण ये ग्रह रहने लायक है।     

इस ग्रह के तापमान की बात की जाए तो ये माइनस 95.15 डिग्री सेल्सियस से 12.85 डिग्री सेल्सियस के बीच में रहता है, वहीं औसत तापमान की बात की जाए तो ये माइनस 40.14 डिग्री सेल्सियस है, जिसके हिसाब से इस ग्रह पर जीवन संभव हो सकता है।

ये भी पढ़ें:
Sun Never Sets
इन देशों में कई महीनों तक नहीं होती रात

इस ग्रह (New Planet) के वजन की बात की जाए तो इसका धरती के वजन से 1.26 गुना ज्यादा वजन है और साथ ही इसका आकार भी 1.08 गुना ज्यादा बड़ा है। इसके साथ ही वैज्ञानिकों द्वारा ये संभावना भी जताई जा रही है कि इस ग्रह (New Planet) में पानी भी मौजूद हो सकता है।

इसके साथ ही वैज्ञानिकों द्वारा ये भी बताया गया है कि Wolf 1069b (New Planet) एक लॉक्ड पोजिशन में रहता है, जिसके कारण इस ग्रह के एक तरफ हमेशा अंधेरा रहता है और दूसरी तरफ हमेशा उजाला, यानी की इंसान इस ग्रह के केवल एक ही तरफ रह सकता है जहां हमेशा उजाला ही रहता है।

हालांकि इस ग्रह में जीवन से जुड़े कई रहस्यों के बारे में जानना अभी भी बाकी है जिनको जानने में वैज्ञानिकों को अभी भी और 10 सालों का वक्त लग सकता है।  

ये भी पढ़ें:
Poison Garden
क्यों बनाया गया एक ऐसा बगीचा जहां केवल उगाए जाते हैं जहरीले पौधे

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com