भारत का वो गांव जहां पक्षी आते हैं आत्महत्या करने

0
31
Bird Suicide Point
Bird Suicide Point

Bird Suicide Point: एक ही महीने में एक साथ सैकड़ों पक्षी करते हैं यहां आत्महत्या

Bird Suicide Point: सुबह-सुबह जब चिड़ियों की चहचहाहट सुनाई देती है तो मन को एक अगल ही सुकून मिलता है। लेकिन सोचिए जरा अगर आपको इस चहचहाहट की जगह सुबह सुबह ढ़ेर सारे मरे हुए पक्षी दिखाई दें तो कैसा रहेगा आपका दिन, जाहिर सी बात है कि ये दृश्य देखकर किसी को भी अच्छा नहीं लगेगा।

साथ ही दिमाग में ये विचार भी आएगा कि शायद किसी जहरीली हवा के कारण इतने पक्षियों की मृत्यु हुई है, लेकिन अगर इन पक्षियों की मृत्यु (Bird Suicide Point) एक ही महीने में हो रही हो तो? तो क्या समझेगें आप? क्या इस जगह पर कोई भूत प्रेत है जो ऐसा कर रहा है या कुछ और? आज इसी के बारे में बात करेंगे।

दरअसल जिस जगह की हम बात कर रहे हैं उस जगह को चिड़ियों का सूसाइड पॉइन्ट (Bird Suicide Point) कहा जाता है। इस जगह पर कई सारी चिड़ियां एक साथ आती हैं और यहां आकर सूसाइड करती हैं और चिड़ियों का सूसाइड करने का समय भी हर साल एक ही महीना होता है।

Bird Suicide Point: कौन सा गांव है पक्षियों का सूसाइड पॉइंट?

जिस जगह पर चिड़ियों ने अपना सूसाइड पॉइंट (Bird Suicide Point) बनाया है वो जगह असम में है। असम का ये गांव बेहद खूबसूरत है जिसका नाम है जातिंगा। इस गांव में हर साल एक ही समय पर कई सारे पक्षी आते हैं और एक साथ सूसाइड करते हैं, मगर ये पक्षी ऐसा क्यों करते हैं।  

ये भी पढ़ें:
Mahabharat Facts
क्यों द्रौपदी अपने ही पति भीम के खून की थी प्यासी?

जातिंगा गांव असम के उत्तरी काछार पहाड़ी पर स्थित एक वैली है, जो संतरों की खेती के लिए काफी मश्हूर है। यहां लोग दूर दूर से घूमने आते हैं मगर बहुत ही कम लोगों को ये मालूम होगा कि यह एक ऐसी रहस्मयी जगह है जहां कई पक्षी सूसाइड (Bird Suicide Point) करने आते हैं।   

ज्यादातर बरसात के मौसम में इन पक्षियों द्वारा सूसाइड (Bird Suicide Point) की घटनाएं होती है, जैसे बरसात में जब कोहरा लगा होता है उस वक्त। देखा गया है कि ये घटनाएं शाम 7 बजे से रात 10 बजे के बीच में होती हैं और इस वक्त यहां कोई अकेला पक्षी सूसाइड (Bird Suicide Point) नहीं करता बल्की अलग-अलग प्रजाती के पक्षी सूसाइड करते हैं।  

क्या है सूसाइड करने के पीछे का रहस्य?     

लेकिन इतने सारे पक्षी क्यों इसी जगह पर आकर एक साथ सूसाइड (Bird Suicide Point) करते हैं। आपको बता दें कि इस रहस्य पर से आज तक पर्दा नहीं उठ पाया है कि क्यों इतने पक्षी यहीं पर आकर मरते (Bird Suicide Point) हैं, इस जगह पर न तो कोई जहरीली गैस है और न ही हवा में प्रदूषण फिर ऐसा क्यों होता है, इस बात का खुलासा आजतक नहीं हो पाया है।

वैज्ञानिकों का क्या है कहना?

वहीं वैज्ञानिकों की माने तो इस घटना के पीछे का कारण एक चुंबकीय शक्ति है। वैज्ञानिकों द्वारा बताया गया है कि इस जगह पर जब नमी और कोहरे के साथ तेज हवाएं चलने लगती हैं तो ऐसे में सभी पक्षी मदहोशी में होते हैं और रोशनी के आस-पास उड़ने लगते हैं, जिससे कभी वो किसी पेड़ से टकरा जाते हैं तो कभी कसी दीवार से, इसी कारण इनकी मृत्यु हो जाती है।

लेकिन स्थानीय लोगों की माने तो इस जगह पर कोई भूत बाधा है जिससे इन पक्षियों की मौत (Bird Suicide Point) होती है। इस अनोखी जगह को देखने के लिए देश भर से कई लोग यहां आते हैं और इस जगह के रहस्य को जानने की कोशिश करते हैं।

ये भी पढ़ें:
Black Magic Village
यहां के बच्चे तक जादू से कर सकते हैं आपको गायब

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com