कूड़े की दुर्गंध को लेकर बवाल, यहां ग्रामीणों ने हाईवे पर किया चक्का जाम

उत्तरकाशी में ग्रामीणों का चक्का जाम

उत्तरकाशी (विनित कंसवाल) : उत्तरकाशी में गंगा दशहरे के मौके पर जिला मुख्यालय के नगरवासियों ने तांबा खाणी सुरंग में कूड़े की दुर्गंध को लेकर मोर्चा खोल दिया है। नगरवासियों ने गंगोत्री नेशनल हाईवे पर आज कुछ देर के लिए चक्का जाम किया। ग्रामीणों के चक्का जाम की वजह से सड़क के दोनों तरफ गाड़ियों का लंबा जाम लग गया। चक्काजाम की सूचना मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहंचा। जहां पुलिसकर्मियों ने काफी मशक्कत के बाद जाम को खुलवाया।

दूसरी ओर मौके पर पहुंचे परगना मजिस्ट्रेट भटवाड़ी ने नगर के लोगों से बात की। लेकिन  वार्ता के दौरान मजिस्ट्रेट भटवाड़ी ने कह दिया कि इस स्थान  से दो साल तक कूड़ा नहीं हट सकता है। जिस पर नगरवासी  खासा आक्रोशित हो उठे और गुस्साए लोगों ने  नगरपालिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ये भी पढ़े-NHAI World Record: दुनिया ने देखी भारत की ताकत,105 घंटे और 33 मिनट में बनाया हाईवे, कतर को छोड़ा पीछे

उत्तरकाशी में ग्रामीणों का चक्का जाम

ग्रामीणों का कहना है कि उत्तराकाशी जिला बनने के बाद से आज तक कूड़े का निस्तारण नहीं हो पाया है। जिस वजह से ग्रामीणों को कूड़े की दुर्गंध झेलनी पड़ती है, तो वहीं  चारधाम यात्रा पर आ रहे लोगों को भी कूड़े की दुर्गंध से दो से चार होना पड़ता है। ग्रामीणों की माने को नगर पालिका रातों-रात कूड़े को गंगा नदी में धकेल रहा है। जिस वजह से कूड़े की दुर्गंध क्षेत्र में और भी बढ़ गई है तो वहीं गंगा नदी भी दूषित हो रही है। लोगों का कहना है कि नगर पालिका के गंगा नदीं में कूड़ा फेंकने से उनमें काफी नाराजगी है और नगर पालिका ने ऐसा कृत्य कर गंगा के भक्तों को काफी आक्रोशित किया है। ये भी पढ़े-यहां गुलदार ने महिला पर किया हमला, हैंडपंप पर गई थी पानी लेने