पानी में तैरता हुआ आइलैंड, क्या इस आइलैंड का रहस्य?

0
72

Floating Island of India: इस आइलैंड को देख वैज्ञानिक तक रह गए हैरान

Floating Island of India: प्रकृति अपने आप में कई ऐसे करिश्में करती हैं जिन्हें देख इंसान दंग रह जाता है। इन करिश्मों से पैदा होते हैं प्रकृति के अद्भुत नजारे जो देखने लायक होते हैं। ऐसी ही एक जगह है भारत के मणिपुर में जहां आपको झील में कई सारे आइलैंड तैरते (Floating Island of India) नजर आएंगें।

मणिपुर में स्थित इस झील को लोकटक झील के नाम से जाना जाता है और इस झील में कई सारे तैरते हुए आइलैंड होने के कारण इस झील को फ्लोटिंग झील (Floating Island of India) के नाम से भी जाना जाता है। धरती में मणिपुर की ये फ्लोटिंग झील एकमात्र ऐसी झील है जहां कई छोटे- छोटे आइलैंड तैरते हैं।

ये फ्लोटिंग झील (Floating Island of India) 240 स्क्वायर किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैली हुई है। इन छोटे छोटे आईलैंड्स (Floating Island of India) में घास मौजूद है और इन आइलैंड्स को फुमड़ी के नाम से जाना जाता है। ये फुमड़ी मिट्टी, वनस्पति और कार्बनिक पदार्थों से मिलकर बनती है।

ये भी पढ़ें:
abraham lake bubbles
Abraham Lake Bubbles: इस झील में कैसे जम जाते हैं बुलबुले?

अगर आप दूर से इन फुमड़ी को देखेंगे तो दूर से ये बिलकुल एक तैरते हुए आइलैंड (Floating Island of India) की तरह दिखाई देता है। इस झील में ही दुनिया का एकलौता ऐसा नेशनल पार्क मौजूद है जो तैरता है। इस नेशनल पार्क का नाम है कीबुल लामजाओ नेशनल पार्क।

इस झील (Floating Island of India) में मौजूद फुमड़ी की बात की जाए तो इस फुमड़ी की मोटाई करीबन 2 मीटर तक होती है। गर्मियों के मौसम में इन फुमड़ियों की जड़े झील के तल तक चली जाती हैं। वहीं इस इलाके में वन्य जीवों की बात की जाए तो यहां करीबन 425 प्रजातियों के जानवर मौजूद हैं, 100 प्रजाती की चिड़ियां और झील में 233 प्रजातियों के जीव पाए जाते हैं।

पानी में तैरता हुआ आइलैंड, क्या इस आइलैंड का रहस्य?

इस जगह की अद्भुत सुंदरता के कारण ही यहां देश विदेश से कई पर्यटक घूमने आते हैं। इस फ्लोटिंग झील में फ्लोटिंग रेस्तरां भी मौजूद है, जहां काफी लोग जाते हैं और समय बिताते हैं। यहां के लोगों का रोजगार का जरिया है यहां आने वाले टूरिस्ट्स। देश विदेश से हर साल यहां लाखों की संख्या में टूरिस्ट्स आते हैं, इस जगह की अद्भुत सुंदरता को देखने के लिए और यहां पाए जाने वाले कई प्रजातियों के जीवों को देखने के लिए।

ये भी पढ़ें:
Airavatesvara Temple Musical Steps
मंदिर की सीढ़ियों पर चलने से सुनाई देती हैं संगीत की धुन

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com