दो दिवसीय कुमाऊं दौरे पर सीएम धामी: आखिर क्यों अपने शरीर पर लगाया मिट्टी का लेप

0
68
CM Dhami Kumaon Visit
CM Dhami Kumaon Visit

Uttarakhand Devbhoomi Desk: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपने दो दिवसीय कुमाऊं दौरे (CM Dhami Kumaon Visit) पर हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री चम्पावत जिले के टनकपुर में राष्ट्रीय प्राकृतिक चिकित्सा दिवस के मौके पर सूर्योदय सेवा समिति की ओर से आयोजित अंतरराष्ट्रीय नेचुरोपैथी (प्राकृतिक चिकित्सा) एवं योग सम्मेलन में शामिल हुए। उन्होने यहां मृदा चिकित्सा के कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

और साथ ही अपने पूरे शरीर में मिट्टी का लेप लगाकर लोगों को यह संदेश देने की कोशिश की है कि प्राकृतिक चिकित्सा हमारे शरीर के लिए कितना लाभदायक है। वहीं सीएम धामी ने कहा कि मृदा थैरेपी हमें बचपन की याद दिलाती है। नेचुरोपैथी ऋषि मुनियों के समय से चली आ रही है। हमें इसे बढ़ाना देने के लिए आगे आना चाहिए। 

यह भी पढ़े:
Haridwar Police
हरिद्वार में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक बदमाश के पैर पर लगी गोली

CM Dhami Kumaon Visit: ये होंगे अगले कार्यकर्म

इसके बाद सीएम हल्द्वानी के लिए रवाना होंगे। यहां सीएम का दोपहर ढाई बजे से पौने 5 बजे तक का कार्यक्रम है। बता दें कि सीएम यहां हल्द्वानी क्षेत्र की घोषणाओं के क्रियान्वयन, प्रगति की समीक्षा करेंगे। बैठक के बाद वह एमबी इंटर कालेज में श्रीमद्भगवत कथा में शामिल होंगे। और इसके बाद वह उधम सिंह नगर खटीमा (CM Dhami Kumaon Visit) के लिये रवाना हो जाएंगे।

यह भी पढ़े:
Haridwar Kumbh Mela 2021
हरिद्वार कुंभ में कोरोना जांच का फर्जीवाड़ा: निलंबित दो अधिकारी बहाल

क्या होता है नेचुरोपैथी इलाज?

नेचुरोपैथी यानी प्राकृतिक चिकित्सा। आपको बता दें कि नेचुरोपैथी में सभी बीमारियों का इलाज प्राकृतिक तरीके से ही किया जाता है, यानी सभी बीमारियों का इलाज बिना दवा के किया जाता है। नेचुरोपैथी के तहत आठ प्रकार से इलाज किया जाता है, इसमें कीचड़ स्नान (मड बाथ), सूर्य स्नान, पाद स्नान और मिट्टी की पट्टी शामिल हैं।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.co