इस गांव में हर घर के बाहर खड़े रहते हैं Planes

0
329

Cameron Air Park: इस गांव की सड़के हैं हवाई अड्डे के रनवे से कई गुना चौड़ी  

Cameron Air Park: आज की तारीख में आपने हर घर में बाइक्स देखी होगीं, कार्स देखी होंगी लेकिन क्या आपने कभी कोई ऐसी जगह देखी है जहां हर शख्स के पास अपना चार्टर्ड प्लेन हो, ऑफिस जाने के लिए लोग अपने प्राइवेट प्लेन्स का इस्तेमाल कर रहे हों, यहां तक की लोग अपने- अपने विमानों में ही घर का सामान लेने भी जा रहे हों। नहीं देखी तो आज हम आपको एक ऐसी जगह (Cameron Air Park) के बारे में बताएंगे जहां हर घर में कम से कम एक प्लेन तो है ही।

ये अनोखा गांव (Cameron Air Park) अमेरिका के कैलिफोर्निया में स्थित है जहां की सड़के इतनी चौड़ी हैं कि किसी हवाई अड्डे का रनवे भी इतना चौड़ा नहीं होगा। ये गांव कैमरन एयर पार्क (Cameron Air Park) के नाम से जाना जाता है जहां आपको हर घर के बाहर चार्टर्ड प्लेन दिखाई देगें, यहां के घरों में कोई गैराज नहीं बनाए गए हैं बल्की हैंगर बनाए गए हैं। हैंगर उस जगह को बोलते हैं जहां विमानों को रखा जाता है। वहीं इस गांव (Cameron Air Park) में मौजूद घरों में अधिकतर लोग पायलट्स हैं जिसके कारण भी लोग यहां अपने घरों में चार्टर्ड प्लेन रखते हैं।

वहीं पायलट्स के साथ साथ यहां वकील, डॉक्टर व अन्य प्रोफेशन के लोग भी रहते हैं, लेकिन इन सभी लोगों के पास भी इनके अपने- अपने विमान हैं। ये लोग अपने रोजमर्रा के कामों के लिए और ऑफिस जाने के लिए अपने चार्टर्ड प्लेन्स का ही इस्तेमाल करते हैं।

ये भी पढ़ें:
Guinness World Record
Guinness World Record: ये है दुनिया की सबसे बड़ी पत्ती, जिसमें फिट हो सकते हैं 4 लोग

इस गांव (Cameron Air Park) की सड़कें एयरपोर्ट के रनवे से भी ज्यादा चौड़ी हैं वो इसलिए ताकी जहाज को बिना किसी परेशानी के नजदीकी हवाई अड्डे तक लेकर जाया जा सके और पायलट्स को भी प्लेन को लैंड कराने और उड़ान भरने में कोई परेशानी न हो।   

वहीं गांव (Cameron Air Park) में मौजूद इन प्लेन्स के पंखो को कोई हानी न पहुंचे इसके लिए सड़क के संकेतों को और लेटर बॉक्सेस को बेहद कम ऊंचाई पर लगाया गया है। इसके साथ ही इस गांव (Cameron Air Park) की सड़कों को जो नाम दिए गए हैं वो विमानों के नामों पर आधारित हैं।

आपको बता दें कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अमेरिका ने हवाई जहाजों के परिचालन को बढ़ावा दिया था, जिसके तहत अमेरिका ने कई हवाई अड्डों का निर्माण कराया। वहीं केवल इस गांव (Cameron Air Park) में ही 1939 में पायलटों की संख्या 34000 थी और इसके ठीक 7 साल बाद, यानी की 1946 में इन पायलट्स की संख्या बढ़कर 4 लाख से भी ज्यादा हो गई।

इसी को देखते हुए अमेरिकी नागरिक उड्डयन प्राधिकरण द्वारा अमेरिका में आवासीय हवाई अड्डों के निर्माण को लेकर प्रस्ताव रखा गया, जिसका एक उदेश्य ये भी था कि सेवानिवृत्त सैन्य पायलटों को समायोजित किया जाए।

ये भी पढ़ें:
Hakki Pikki Tribe
गूगल, हाई कोर्ट! क्यों रखे जाते हैं इस गांव में बच्चों के ऐसे नाम

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com