Tuesday, September 27, 2022
Homeपौडी गढ़वालपहाड़ में ड्यूटी से बचने के लिए मैडम जी का फार्मूला, अपनी...

पहाड़ में ड्यूटी से बचने के लिए मैडम जी का फार्मूला, अपनी जगह तैनात कर दी दूसरी शिक्षिका

Uttarakhand News: Uttarakhand Education System पर सवाल ऐसे ही शिक्षकों के कारण लगते हैं जो वेतन तो सरकार से लेते हैं लेकिन अपना धर्म नहीं निभाते हैं। पौड़ी में एक शिक्षिका का पहाड़ में ड्यूटी से बचने का नया फार्मूला निकाला, इन शिक्षिका ने मात्र ढाई हजार में अपनी जगह दूसरी शिक्षिका तैनात कर दी।

 ये है मैडम जी कारनामा

Uttarakhand Education System
Uttarakhand Education System

Uttarakhand Education System पौड़ी जिले के थलीसैंण ब्लॉक का यह अनोखा मामला सामने आया है। यह मामला यहां के राजकीय प्राथमिक विद्यालय, बग्वाड़ी का है। यहां प्रधानाध्यापक पद पर शीतल रावत तैनात हैं। लेकिन ऐसा लगता है कि मैडम जी का मन दूरस्थ क्षेत्र को बच्चों के भविष्य संवारने पर नहीं लगता है। मैडम जी को रोज स्कूल न आना पड़े इसलिए उन्होंने अपनी जगह मात्र ढाई हजार में एक लड़की को वहां तैनात कर दिया। मधु रावत, मैडम जी की अनुपस्थिति में यहां बच्चों को पढ़ाती हैं।

Uttarakhand Education System: औचक निरीक्षण में हुआ खुलासा

Uttarakhand Education System
Uttarakhand Education System

 पौड़ी जिले के मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज अपने थलीसैंण ब्लॉक के दौरे पर थे। इस दौरे के बीच में उन्होंने राजकीय प्राथमिक विद्यालय, बग्वाड़ी का औचक निरीक्षण किया। लेकिन जब वे वहां पहुंचे तो वहां से प्रधानाध्यापिका शीतल रावत नदारद थी। उनकी जगह कोई और ही बच्चों को पढ़ा रहा था।

पौड़ी शिक्षा विभाग सवालों के घेरे में, शिक्षिका शीतल रावत के समर्थन में उतरे ग्रामीण और शिक्षक संगठन

Uttarakhand Education System वेतन रोकने के हुए आदेश

Uttarakhand Education System
Uttarakhand Education System

 इस पूरे मामले में मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने पौड़ी पहुंचते ही उप शिक्षाधिकारी थलीसैंण को निर्देश देते हुए इस मामले की जांच करने को कहा। जिसमें उन्होंने प्रधानाध्यापिका शीतल रावत से स्पष्टीकरण देने को कहा है। साथ ही उन्होने निर्देश भी दिए हैं कि जब तक मैडम जी के नदारद रहने का औचित्यपूर्ण स्पष्टीकरण नहीं मिलता है तब तक उनके वेतन को अग्रिम आदेशों तक रोका जाये।

ये भी पढ़ें…

राजू श्रीवास्तव का निधन, एम्स अस्पताल में ली आखिरी सांस 

RELATED ARTICLES

Most Popular