रुद्रप्रयाग ( नरेश भट्ट् ) : यात्रा ड्यूटी में तैनात पुलिस कांस्टेबल ने पीआरडी जवान का हेलमेट से सिर फोड़कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल अवस्था में पीआरडी जवान को पहले जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग फिर श्रीनगर और बाद में एम्स ऋषिकेश के लिए रेफर किया गया। ज्यादा चोट लगने के कारण बीती देर रात पीआरडी जवान ने दम तोड़ दिया है। पीआरडी जवान की मौत के बाद आरोपी पुलिस कर्मी को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

बता दें कि आठ जून की रात को पुलिस कांस्टेबल दीपक चन्द्र सिंराई और पीआरडी जवान शूरवीर लाल टम्टा निवासी कांडी बाड़व अगस्त्यमुनि के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इस दौरान पुलिस कांस्टेबल ने पीआरडी जवान के सिर पर हेलमेट मार दिया, जिससे पीआरडी जवान के सिर पर गंभीर चोट लग गई। स्थानीय लोगों की मदद से पीआरडी जवान को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया, जहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग फिर श्रीनगर और इसके बाद सीधे एम्स ऋषिकेश रेफर कर दिया गया। घायल पीआरडी जवान को एम्स में लाइफ सपोर्ट पर रखा गया था, लेकिन बीती देर रात उसकी मौत हो गई। घटना के बाद से पीआरडी जवानों में आक्रोश बना हुआ है। बृहस्पतिवार को पीआरडी जवानों ने पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर कार्य बहिष्कार किया था और आज पीआरडी जवान की मौत की खबर सुनने के बाद वे कार्य पर नहीं गये। बताया जा रहा है कि पुलिस कांस्टेबल आये दिन शराब के नशे में मारपीट किया करता था, जिस कारण पीआरडी जवान खासे परेशान थे। जिस दिन घटना घटी, उस दिन भी पुलिस कांस्टेबल शराब के नशे में था और उसने दो अन्य पीआरडी जवानों के साथ भी मारपीट की। ये भी पढ़े-बरसात से पहले ही खुल गई उत्तरकाशी नगर पालिका की पोल

पुलिस कांस्टेबल ने हेलमेट से फोड़ा पीआरडी जवान का सिर

डीआईजी गढ़वाल करण सिंह नगन्याल ने कहा कि आठ जून की देर रात्रि को सोनप्रयाग में यात्रा सीजन ड्यूटी के लिए नियुक्त एक पुलिस जवान और दो पीआरडी जवानों के मध्य हुई आपसी मारपीट की घटना में तीनों पर चोटें आयी थी। घटना के बाद एक पुलिस कर्मी और एक पीआरडी जवान का स्थानीय चिकित्सालय में उपचार कराया गया था तथा एक पीआरडी जवान के सिर पर अन्दरूनी चोंटें (गम्भीर चोटें) आने से उसे जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग भेजा गया था , जहां से उसे हायर सेन्टर रेफर कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि बीती देर रात को इलाज के दौरान पीआरडी जवान की मौत हो गई है। मृतक पीआरडी जवान के परिजनों की तहरीर के आधार पर आरोपी पुलिस कर्मी के विरुद्ध कोतवाली सोनप्रयाग में धारा 302 में हत्या का अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है। आरोपी पुलिस कर्मी को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। ये बी पढ़े-जेलेंस्की के इस कदम से बढ़ सकती है पुतिन की दिल की धड़कने