Kailash Hospital का 1 और “कारनामा”: 2 बार गलत तरीके से किया गर्भवती का Operation; जच्चा-बच्चा की हालत नाजुक

0
55
Kailash Hospital

Uttar Pradesh News: Noida Bureau नोएडा, ब्यूरो : Kailash Hospital: देशभर में तमाम अस्पतालों की लापरवाही और बेवजह मरीजों के साथ एक्सप्रीमेंट्स और साथ ही पैसा देने के बाद भी मरीजों को सुविधा देने की बजाय परेशान करने के मामले सामने आते रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के कैलाश हाॅस्पिटल (Kailash Hospital) में एक गर्भवती महिला और जच्चा-बच्चा के साथ भी लापरवाही का एक और मामला सामने आया है। दिल्ली की एक 24 वर्षीय गर्भवती महिला एक सितंबर को कैलाश हाॅस्पिटल में एडमिट हुई थी। उसकी डिलिवरी के दौरान दो-दो बार गलत तरीके से आपरेशन करने के कारण जच्चा-बच्चा दोनों की हालत नाजुक हो गई है।

Kailash Hospital का 1 और कारनामाः 24 वर्षीय गर्भवती के साथ कर रहे “एक्सपरिमेंट्स”?

Kailash Hospital Noida महिला का जहां छह दिन आपरेशन कर दिया गया है, वहीं उसके नवजात को भी वेंटिलेटर पर रखा गया है। एक दिन पहले कैलाश अस्पताल नोएडा (Kailash Hospital) में महिला के परिजनों ने जमकर हंगामा काटा। इसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर खूब वायरल भी हो रहा है। वहीं, दूसरी ओर इलाके के सांसद महेश शर्मा मौके पर पहुंचे और अस्पताल (Kailash Hospital) प्रबंधन और Doctors पर कार्रवाई करने की बजाय महिला के परिजनों को ही समझाने में जुटे रहे।

यह भी पढ़ें: Agniveer Bharti Pithoragarh: UP का 1 और युवक अरेस्ट, 3-3 आधार कार्ड और ये फर्जी दस्तावेज मिले

Kailash Hospital

बता दें कि इससे पहले भी कई बार अलग-अलग जगह मौजूद कैलाश हाॅस्पिटल से इलाज के नाम पर मरीजों और तीमारदारों के उत्पीड़न के मामले सामने आते रहे हैं। आज सामने आए मामले के अनुसार दिल्ली निवासी गर्भवती महिला के परिजनों ने डॉक्टरों पर दो बार गलत तरीके से ऑपरेशन करने का आरोप लगाया।

Kailash Hospital Noida: महिला और उसके नवजात शिशु को वेंटिलेटर पर

इससे महिला और उसके नवजात शिशु को वेंटिलेटर पर रखना पड़ा है। दो-दो बार गलत तरीके से आॅपरेशन करने पर महिला की हालत बिगड़ती जा रही है। इससे गुस्साए परिजनों ने कैलाश अस्पताल नोएडा में आज जमकर हंगामा काटा। अब यह वीडियो सोशल मीडिया और इंटरनेट मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

कैलाश अस्पताल में हंगामे की सूचना पर सांसद डाक्टर महेश शर्मा व प्रसूति एवं महिला रोग विभाग की एचओडी डॉ. उमा शर्मा मौके पर पहुंची। परिजनों का आरोप है कि सांसद महेश शर्मा भी मामले में कार्रवाई करने की बजाय पीड़ित परिजनों को ही समझा रहे हैं। अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

kailash hospital noida

 

Kailash Hospital Noida में हंगामा बढ़ता देख पुलिस को फोन किया

वहीं, बच्चा और आकांक्षी की तबीयत बेहद नाजुक बताई जा रही। परिजनों ने कहा कि हम कैलाश अस्पताल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाना चाहते हैं। हमने अभी कोई लिखित शिकायत नहीं दी है। जल्द ही पुलिस को लिखित शिकायत देंगे। हंगामा बढ़ता देख अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस को फोन किया। परिजनों का आरोप है कि उन्हें कोई भी सही जवाब नहीं दे रहा था। उनको नहीं पता कि जच्चा और बच्चा दोनों अब किस हालत में हैं। आरोप लगाया कि बिना परिजनों से पूछे दोबारा कैसे आपरेशन कर दिया गया।

दरअसल, दिल्ली के अशोक नगर की आकांक्षी गुप्ता (24) 1 सितंबर को कैलाश अस्पताल नोएडा में भर्ती हुई। आकांक्षी के परिजनों ने बताया कि 1 सितंबर को ऑपरेशन से डिलीवरी हुई थी। इसके बाद आकांक्षी गुप्ता की तबीयत बिगड़ने लगी। उन्होंने बताया कि उन्हें छह दिन बाद बताया कि इमरजेंसी में डॉक्टरों ने आकांक्षी का दोबारा ऑपरेशन किया है।

यह भी पढ़ें: Uksssc Online Forester Exam : 2 आरोपी STF ने यहां से दबोचे, खुलेंगे Hitech खेल के राज?

Rudrapur Crime News: Love Jihad का 1 और सनसनीखेज Case, हिन्दू छात्रा को ऐसे प्रेमजाल में फंसाया; अरेस्ट

Uttarakhand News: सत्ता के गलियारों में सुगबुगाहट, 2 मंत्रियों पर बीजेपी आलाकमान ले सकता है बड़ा फैसला

Uttarakhand Police : 1.5 साल से नहीं दर्ज हुई 2 भैंस चोरी की रिपोर्ट; CM दरबार पहुंचा केस तो सभी हैरान