पहले की हत्या और फिर दृश्यम मूवी की तरह लाश को लगाया ठिकाने

0
61
ghaziabad murder case
ghaziabad murder case

Ghaziabad Murder: असल जिंदगी में दिखाई दिया दृश्यम मूवी का दृश्य, पत्नी ने आशिक के साथ मिलकर की पती की हत्या

Ghaziabad Murder: फिल्म से प्रेरित होकर कई लोग अपने पहनावे, रहनसहन और इसके अलावा और भी कई बदलाव करते हैं लेकिन क्या आपने कभी कोई ऐसा दृश्य देखा है जिसमें कोई व्यक्ति हूबहू फिल्मी तरीके से किसी मर्डर को अंजाम दे सके। ऐसा ही एक दृश्य यूपी के गाजियाबाद (Ghaziabad Murder) में भी देखने को मिला है जहां असल जिंदगी में दृश्यम मूवी जैसा सीन देखने को मिला है।

गाजियाबाद (Ghaziabad Murder) के सिहानी गेट इलाके में सोमवार को तब खलबली मची जब क्राइम ब्रांच ने एक 4 साल पुराने केस का खुलासा किया। दरअसल 4 साल पहले 46 वर्षीय चंद्रवीर अपने घर से लापता हो गया था, जिसके बाद परिजनों द्वारा चंद्रवीर के लापता होने की थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने चंद्रवीर की काफी खोजबीन की लेकिन चंद्रवीर का कुछ पता नहीं चला।

चंद्रवीर
चंद्रवीर

इसके बाद जब शक की सुई चंद्रवीर की पत्नी सविता पर घूमी तो सवीता ने इस मामले में अपने देवर पर उसका हाथ होने का आरोप लगाया, जिसके बाद पुलिस इसी दिशा में आगे बढ़ती रही लेकिन पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा, लेकिन कहते हैं न की अपराध ज्यादा समय तक छिपकर नहीं रह सकता और ऐसा ही हुआ।

पुलिस लगभग केस बंद ही कर चुकी थी कि मृत चंद्रवीर की बेटी हार कर बैठना नहीं चाहती थी, जिसके बाद पुलिस को इस केस में एक नई लीड मिली और सोमवार को ये पूरा मामला सबके सामने आ गया। आपको बता दें कि चंद्रवीर कोई गायब नहीं हुआ था बल्की उसकी हत्या (Ghaziabad Murder) की गई थी वो भी उसकी अपनी पत्नी और उसके प्रेमी द्वारा और अपने पती के गायब होने का इल्जाम सविता अपने देवर पर लगाती रही।

ये भी पढ़ें:
Udham Singh Nagar
महिला ने लगाया डॉक्टर पर दुष्कर्म का आरोप, डॉक्टर ने बच्चा गिराने की दवाई भी खिलाई

दरअसल सविता का उसके पड़ोस में रह रहे अरुण के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। सविता का पति काफी शराब पीता था और शराब पीने के बाद उसके साथ मारपीट भी किया करता था। कई बार तो चंद्रवीर अपनी पत्नी सविता को अरुण के साथ आपत्तिजनक स्थिती में भी देख चुका था जिसके बाद घर में अक्सर लड़ाइयां हुआ करती थी। लेकिन फिर एक दिन सविता और उसके प्रेमी ने चंद्रवीर को अपने रस्ते से हटाने का फैसला लिया।

एक दिन चंद्रवीर शराब पीकर घर लौटा तो योजना के अनुसार अरुण ने चंद्रवीर के सिर पर गोली मार (Ghaziabad Murder) दी, इस दौरान सविता नीचे बाल्टी लगाकर खड़ी रही ताकी सारा खून इस बाल्टी में जमा हो जाए और खून इधर उधर फैले नहीं। इसके बाद अरुण ने अपने घर में एक 6 फीट गड्ढ़ा खुदवाया और उसमें चंद्रवीर की लाश (Ghaziabad Murder) को दबा दिया।

ghaziabad murder case
Source: Social Media

अरुण इतना शातिर था कि उसने पहले से ही यहां ये गड्ढ़ा खुदवा रखा था और लोगों को बताया कि वो यह गड्ढ़ा टॉयलट के लिए खुदवा रहा है। लाश की पहचान छिपाने के लिए अरुण ने चंद्रवीर का वो हाथ काट दिया जिसमें उसने कड़ा पहना हुआ था और ये हाथ काटकर उसने केमिकल फैक्ट्री के पास फेंक दिया, ताकी चंद्रवीर की शिनाख्त कभी हो ही न पाए।

इसके बाद चंद्रवीर की लाश (Ghaziabad Murder) को इस गड्ढ़े में डबाकर ऊपर से अरुण ने फर्श भी डलवा दिया ताकी कभी इस राज का खुलासा ही न हो सके। जब अरुण से पूछा गया कि उसने चंद्रवीर की लाश को अपने ही घर में क्यों छिपाया तो उसका कहना था कि कहीं और छिपाता तो पकड़े जाने का ज्यादा खतरा होता इसलिए उसने अपने ही घर में चंद्रवीर की लाश (Ghaziabad Murder) को छिपा दिया।

फिलहाल क्राइम ब्रांच द्वारा इस खून (Ghaziabad Murder) में इस्तेमाल की गई बाल्टी और मग्गा समेत तमंचा और अन्य हथियार बरामद किए जा चुके हैं, वहीं सविता और अरुण को गिरफ्तार कर लिया गया है।   

ये भी पढ़ें:
crime news today
लिव इन पार्टनर ने प्रेमिका के 35 टुकड़े किए, शव के टुकड़े रोज रात 2 बजे ठिकाने लगाता था शख्स

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com