14 वर्षों बाद तुंगेश्वर में हुआ चौंसठ मेले का आयोजन

0
358
chausath mela in chamoli

Uttarakhand Devbhoomi Desk: 14 वर्ष बाद आज दक्षिण काली मंदिर तुंगेश्वर में चौंसठ मेले का आयोजन किया गया। इस दौरान बधाण की नंदा भगवती की उत्सव डोली 6 माह के अपने सिद्धपीठ देवराडा प्रवास के बाद सिद्धपीठ कुरुड़ नन्दानगर (chausath mela in chamoli) के लिए रवाना की गई। पौष मास की अष्टमी को तुंगेश्वर स्थित काली शक्तिपीठ में देवता के पश्वाओ पर देवता के अवतरण के साथ ही चौसठ मेले का आयोजन किया गया।

यह भी पढ़े:
new year celebration in uttarakhand
होटलों और शराब की दुकानों के समय में किया गया बदलाव, पढ़े सरकार का आदेश

chausath mela in chamoli: 14 वर्षो के अंतराल के बाद हुआ आयोजन

तकरीबन 14 वर्षो के अंतराल के बाद तुंगेश्वर में आयोजित हो रहे चौसठ मेले (chausath mela in chamoli) में भक्तों की काफी भीड़ देखने को मिली। वहीं मां नंदादेवी की कुरुड़ विदाई को और भी उत्सव के साथ मनाने के लिए तुंगेश्वर में सांस्कृतिक मेले का भी आयोजन किया। कार्यक्रम में थराली से बीजेपी विधायक ने इस सांस्कृतिक मेले में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की।

Untitled 11 1

वहीं इस धार्मिक और संस्कृति मेले में लोकगायक सौरभ मैठाणी के भजनों और हेमा नेगी करासी की मनमोहक प्रस्तुतियों ने दर्शकों का मन मोह लिया।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com