इन बाबा ने क्यों मारी खुद को गोली? क्षेत्र में फैली सनसनी

0
465
Champawat suicide case

Uttarakhand Devbhoomi Desk: चंपावत के पाटी तहसील में एक बाबा की आत्महत्या का मामला सामने आया है। मामले की खबर सामने आते ही (Champawat suicide case) क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वहीं मौके पर पुलिस पहुँची और घटनास्थल से तमंचा भी बरामद किया। बताया जा रहा है कि चंपावत जिला मुख्यालय से 85 किलोमीटर दूर वारसी गुफा के पास एक बाबा ने खुद को गोली मारकर जान दे दी। मौके पर पहुँची पुलिस के मुताबिक घटना स्थल से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है। जिसमें बाबा ने मौत के लिए खुद को जिम्मेदार बताया है।

यह भी पढ़े:
Ankita Bhandari Murder Case
अंकिता हत्याकांड में बड़ा अपडेट- नहीं होगा मुख्य आरोपी का नार्को टेस्ट, जानिए वजह

Champawat suicide case: इस कारण मारी खुद को गोली

मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक बाबा लखनऊ के रहने वाले हैं। और चंपावत से दस किलोमीटर दूर (Champawat suicide case) चल्थियां में छोटा सा आश्रम बना रहे थे। एसपी के मुताबिक, ये मामला डिप्रेशन की वजह से आत्महत्या का लग रहा है लेकिन पुलिस फिर भी मामले की जांच कर रही है।

वहीं पुलिस ने लोहाघाट में पोस्टमार्टम कर शव आश्रम के संचालक को सौंप दिया है। वहीं घटनास्थल से बरामद हुई सुसाइड नोट में बाबा ने रुद्रेश्वर धाम स्थित शिव मंदिर में समाधि बनाने की अपनी अंतिम इच्छा बताई है।

यह भी पढ़े:
CM Pushkar Singh Dhami latest news
हरिद्वार में हुआ सीएम धामी के बेटे का यज्ञोपवीत संस्कार

वहीं वारसी गुफा के बाबा वीरेंद्र गिरी का कहना है कि स्वामी ध्यान योगी सात दिन से गुफा में उनके साथ रह रहे थे। वह रोज देर तक मोबाइल से बात करते थे।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com