सीने के बाहर धड़कता है इस बच्ची का दिल

0
427
Versavia Boron Heart
Versavia Boron Heart

Virsaviya Borun Heart: 12 साल की बच्ची की दिल की धड़कने सुनाई नही बल्कि दिखाई देती हैं

Virsaviya Borun Heart: आमूमन आपने दिल को धड़कते हुए सुना होगा लेकिन आपने कभी दिल को धड़कते हुए देखा नही होगा। हां, ऑपरेशन थिएटर में डॉक्टरों ने जरूर दिल को धड़कते हुए देखा होगा। लेकिन अगर आम आदमी की बात की जाए तो किसी भी आम इंसान ने शायद ही दिल को सामने से धड़कते हुए देखा होगा। आज के इस लेख में हम आपको उस बच्ची के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका दिल आप साफ साफ धड़कता हुआ देख सकते हैं। इस बच्ची का दिल केवल स्किन की एक पतली सी परत के पीछे ही छिपा हुआ है।

जिस बच्ची की हम बात करे रहे हैं वो मूल रूप से रूस की रहने वाली है और फिलहाल ये बच्ची अपनी मां के साथ अमेरिका के फ्लोरिडा में रहती है। जब इस बच्ची का जन्म हुआ था तो उसी समय से इस बच्ची का दिल छाती और पेट के बीचों बीच धड़कता हुआ नजर आया।

Virsaviya Borun Heart
Source: Instagram

दरअसल इस बच्ची का दिल मां के गर्भ से ही इस तरह से बाहर की ओर निकला हुआ था। मां के गर्भ में ही बच्ची की मांसपेशियां और पसलियां गलत तरीके से विकसित हो गई। जब गर्भ में पल रही वरसाविया (Virsaviya Borun Heart) की कंडिशन के बारे में डाक्टर्स को पता चला तो उन्होंने वरसाविया की मां को अबॉर्शन कराने की सलाह दी और कहा था कि या तो ये बच्ची मृत पैदा होगी या फिर कुछ समय बाद ये बच्ची मर जाएगी, लेकिन वरसाविया की मां ने अपने गर्भ में पल रही वरसाविया को रखने का निर्णय लिया और आज वरसाविया पूरे 12 साल की हो चुकीं हैं और बिलकुल स्वथस्थ हैं।

दरअसल वरसाविया (Virsaviya Borun Heart) को जन्म से ही एक दुर्लभ बिमारी थी जिसका नाम है पेंटलोगी ऑफ कैंट्रेल (Pentalogy of Cantrell)। ये बीमारी 10 लाख बच्चों में से किसी एक को होती है। वरसाविया ज्यादा ठंडे इलाके में नही रह पाती हैं जिसके बाद वरसाविया की मां उनके साथ अमेरिका के फ्लोरिडा में शिफ्ट हो गईं।  

Virsaviya and her mother
Source: Instagram

वरसाविया की मां का फ्लोरिडा शिफ्ट होने का एक कारण वरसाविया को ठीक करना भी था, ताकी फ्लोरिडा जाकर वरसाविया (Virsaviya Borun Heart) को एक बहतर इलाज मिल सके। वरसाविया की मां ने वरसाविया को कई अस्पतालों में दिखाया, उनकी सर्जरी कराने की सोची लेकिन सभी डॉक्टर्स ने वरसाविया की सर्जरी (Virsaviya Borun Heart)  करने से इंकार कर दिया क्योंकि इसमें  वरसाविया की जान भी जा सकती है।   

12 साल की वरसाविया स्कूल जाती हैं, उनके कई फ्रैंड्स भी हैं, लेकिन एक यूट्यूब चैनल को इंटरव्यू देते समय वरसाविया बताती हैं कि मेरी इस हालत को लेकर कई बच्चे मुझे चिढ़ाते हैं और इसे मेरे अगेंस्ट इस्तेमाल करते हैं। जैसे बाकी बच्चे भाग सकते हैं मैं भाग नही सकती, एक्सर्साइज नही कर पाती, कूद नही पाती, लेकिन फिर भी मै एक नॉर्मल लाइफ जी रही हूं।

Virsaviya Borun Heart
Source: Social Media

वरसाविया (Virsaviya Borun Heart) का कहना है कि उन्हें किसी भी प्रकार का कोई दर्द महसूस नही होता, बस उन्हें अपना थोड़ा ज्यादा खयाल रखना पड़ता है ताकी कोई भी चीज उनके हार्ट पर आकर न लगे। वहीं वो ज्यादा खेल कूद भी नही पाती हैं क्योंकि ऐसा करने से उनके शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है।   

वरसाविया एक जिंदादिल बच्ची हैं जो अपनी उम्र के मुताबिक बेहद स्ट्रॉग हैं। उन्हें पेंटिंग करना बहुत पसंद है और साथ ही गानों में झूमना भी पसंद है। हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि वरसाविया जल्द से जल्द ठीक हो जाएं और वो बाकी बच्चों की तरह ही खेल कूद पाएं।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com