उत्तराखंड परिवहन विभाग में दो सौ इलेक्ट्रिक और दो सौ सीएनजी बसों का जल्द होगा संचालन

0
30

रविवार को निर्माणाधीन ISBT रुद्रपुर का निरीक्षण करने पहुंचे (Uttarakhand Parivahan Vibhag) परिवहन मंत्री चंदनराम दास ने कहा के प्रदेश में 200 इलेक्ट्रिक और 200 सीएनजी बसों का संचालन किया जाएगा|

Uttarakhand Parivahan Vibhag- डिजिटल होगा उत्तराखंड परिवहन विभाग

Uttarakhand Parivahan Vibhag भी डिजिटल हो इसके लिए बीएलडी एप के माध्यम से बसों की लोकेशन और उनकी फिटनेस के बारे में जानकारी ली जा सकेगी और एप के माध्यम से ही यदि वाहन की फिटनेस समाप्त होने वाली हो तो इसकी जानकारी वाहन स्वामी को एक माह पूर्व ही मिल सकेगी|

Uttarakhand Parivahan Vibhag 22 करोड़ के फायदे मे उत्तराखंड परिवहन विभाग

परिवहन मंत्री चंदनराम दास ने बस में खुद यात्रियों से सुविधाओं की जानकारी लेते हुए बताया की जब उन्हे Uttarakhand Parivahan Vibhag मिला था तो उत्तराखंड परिवहन निगम 300 करोड़ के घाटे मे चल रहा था जबकि अब विभाग 22 करोड़ के फायदे मे चल रहा है| उन्होने कहा की यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मिलें, इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है।

Uttarakhand Parivahan Vibhag

Uttarakhand Parivahan Vibhag- प्रदेश को मिलेगी 600 बसों की सौगात

जानकारी देते हुए परिवहन मंत्री चंदन राम दास ने बताया की जल्द ही उत्तराखंड परिवहन विभाग को 600 बसों की सौगात मिलेगी और अन्य राज्यों में बसों का संचालन किया जाएगा। जिससे उत्तराखंड परिवहन निगम का विस्तार होगा और विभाग की आय में बढ़ोतरी होगी| साथ ही आईएसबीटी के निर्माण में अतिक्रमण की बाधा पर कहा कि सरकार की मंशा है कि किसी का रोजगार न उजड़े इसका हर स्तर पर प्रयास किया जाएगा|

अल्मोड़ा, भवाली स्टेशन को डिपो के तौर पर किया जाएगा विकसित

उन्होने कहा के Uttarakhand Parivahan Vibhag द्वारा जहाँ हरिद्वार, रुड़की में नए आईएसबीटी बनेंगे वहीं उत्तराखंड परिवहन विभाग द्वारा अल्मोड़ा और भवाली स्टेशन को डिपो के तौर पर विकसित किया जाएगा| पर्वतीय जिलों के लिए यात्रियों को सीधे रुदपुर से समय पर बस मिल सके इसकी जल्द ही व्यवस्था की जाएगी|

फेसबुक ने बना दी जोड़ी, 83 साल की महिला को हुआ 28 साल के लड़के से प्यार