मास्टर जी ने स्कूल में उतरवाई छात्रा की ड्रेस, 2 घंटों तक बिना ड्रैस के थी छात्रा

Shahdol News
Shahdol News

Shahdol News: मास्टर जी करना चाहते थे कुछ, और कर बैठे ये क्या?

National News Desk: एक स्कूल में शिक्षक का कार्य होता है बच्चों को शिक्षा देना, उनका भविष्य सुधारना। मगर क्या होगा तब, जब शिक्षक खुद ही बच्चों के कपड़े भी धोने लगे। इस वाक्य को सुनने के बाद आप सभी के मन में इस शिक्षक के प्रति इज्जत और बढ़ गई होगी, कि कितना अच्छा शिक्षक है जो अपने स्कूल के बच्चों की ड्रैस भी खुद ही धो रहा है और साथ ही मन में ये सवाल भी आ रहा होगा कि आखिरकार क्यों शिक्षक ने खुद अपने स्कूल के बच्चों के कपड़े धोए, तो चलिए अब आपको बताते हैं कि आखिरकार ये पूरा मामला है क्या।

शहडोल में स्वच्छता अभियान का मोर्चा संभाले शिक्षक ने ये क्या कर डाला?

ये मामला है मध्यप्रदेश के शहडोल (Shahdol News) इलाके का जहां मास्टर जी खुद ही स्वच्छता अभियान का मोर्चा लिए चल दिए। मगर मास्टर जी ने ये न सोचा था कि ये स्वच्छता अभियान उन्हीं पर भारी पड़ सकता है। दरअसल जब स्कूल में एक 10 वर्षीय छात्रा गंदी ड्रैस ही पहनकर आ गई तो मास्टर जी ने पूरे स्कूल के सामने बच्ची की ड्रैस उतरवाई और खुद बच्ची की ड्रैस धोने लगे। इस दौरान पूरे 2 घंटे तक, जब तक की बच्ची की ड्रैस सूखी नही तब तक बच्ची अर्धनग्न अवस्था में ही खड़ी रही।

मास्टर जी ने खुद ही अपनी तस्वीर की थी शेयर

ये मामला शहडोल (Shahdol News) जिले के जयसिंहनगर विकासखंड के पोड़ी गांव का है, जहां एक माध्यमिक स्कूल में 10 वर्षीय छात्रा को मास्टर जी के कारण पूरे 2 घंटों तक अर्धनग्न अवस्था में ही खड़ा रहना पड़ा। हद तो तब हो गई जब मास्टर जी ने खुद अपनी इस करतूत का फोटो खिंचवाया और अब ये फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

Shahdol News
Source: Social Media

स्कूल (Shahdol News) में मास्टर जी की इस करतूत से छात्रा को सभी छात्र-छात्रों के सामने बिना कपड़ों के शर्मिंदा होना पड़ा, जिससे आस पास के ग्रामीणों में भी मास्टर जी के खिलाफ भारी आक्रोश है। ग्रामीणों ने मास्टर जी की इस हरकत पर नाराजगी जताते हुए, मास्टर जी को कड़ी सजा देने की अपील की है।

ब्लॉक शिक्षा अधिकारी को मामले की खबर ही नही

इसके बाद जब मास्टर जी की इस करतूत की फोटो सोशल मीडिया पर वारयल हुई, तो शिक्षा विभाग इस मामले में लीपापोती करने में तुल गया। जब मीडिया द्वारा ब्लॉक शिक्षा अधिकारी नीलम सिंह (Shahdol News) से इस बारे में पूछा गया तो नीलम सिंह कहती हैं कि उन्हें इस तरह की कोई भी जानकारी नही मिली है, कि शिक्षक ने बच्ची की ड्रैस उतरवाई हो और दो घंटों तक छात्रा को अर्धनग्न अवस्था में रखा हो। अगर शिक्षक द्वारा ऐसा कुछ किया गया होगा तो उनके खिलाफ कार्यवाई अवश्य की जाएगी।

ये भी पढ़े:
kanpur Newsखुलासा! डेढ़ साल से बेटे के शव के साथ क्या कर रहे थे मां-बाप

Shahdol News: जिला शिक्षा अधिकारी का इस मामले में क्या है कहना?

इसके बाद जब इस बारे में जिला शिक्षा अधिकारी एमएस मारपार्टी (Shahdol News) से पूछा गया तो उन्होंने भी ऐसा जवाब दिया कि मानों उन्हें भी इस बारे में भनक तक न थी। लेकिन सवाल ये खड़ा होता है कि जब मास्टर जी ने खुद ही छात्रा के कपड़े धोने का फोटो ग्रुप पर शेयर किया था तो कैसे इन अधिकारियों को इस बारे में कोई जानकारी नही थी या फिर ये कह सकते हैं कि जानकारी होते हुए भी शायद ये अधिकारी अनजान बनने का नाटक रच रहे हैं।      

गलती करने के बाद भी क्यों मास्टर जी अपनी गलती मानने को नही हैं तायार

वहीं अगर बात करें मास्टर जी की, तो उन्होंने खुद छात्रा के कपड़े धोते हुए अपनी तस्वीर खिंचवाई और फिर इस तस्वीर को खुद ही शिक्षकों वाले ग्रुप में शेयर भी कर डाली, जिसके बाद ये तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। जब मास्टर जी के खिलाफ कार्यवाई की मांग की जाने लगी तो मास्टर जी का कहना था कि उन्होंने कोई भी गलत काम नही किया, उन्होंने तो केवल साफ सफाई का संदेश दिया है। लेकिन मास्टर जी शायद ये भूल गए कि एक 10 साल की बच्ची की इज्जत को दाव पर रखकर उन्होंने अपने इस सफाई अभियान को अंजाम दिया है।

ये भी पढ़े:
operation meghchakraOperation MeghChakra:बच्चों के अश्लील वीडियो के खिलाफ सीबीआई का बड़ा एक्शन,20 राज्यों में 56 जगह छापेमारी

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com