अनोखी बारात: हरिद्वार में 3 रूसी जोड़ों ने लिए सात फेरे, गढ़वाली कुमाऊँनी धुनों पर थिरके रूसी 

0
174
RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR
RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK: हरिद्वार के अखंड परमधाम आश्रम में तीन रूसी जोड़ों ने भारतीय रीति रिवाज के साथ शादी(RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR) की है। बता दें कि कुछ रूसी नागरिकों का दल यात्रा के लिए हरिद्वार आया था। यहाँ उन्हें भारतीय संस्कृति और सभ्यता इतनी पसंद आ गई कि दल में से तीन जोड़ों ने शादी करने का फैसला कर लिया। इसके बाद संतों के आशीर्वाद से आश्रम में पूरे विधि विधान और वैदिक परंपरा के साथ तीनों जोड़ो ने भारतीय रीति रिवाज से शादी आकर ली।

इन रूसी जोड़ों में लैरिसा ने यूरा के साथ, एलसी ने रुशलम के साथ और विक्टोरिया ने मैटवी के साथ भारतीय रीति रिवाजों के साथ विवाह कर लिया। बता दें कि पहले तो तीनों दुल्हो की बारात निकाली गई। अखंड परमधाम के अध्यक्ष स्वामी परमानंद गिरी महाराज का आशीर्वाद लेकर जोड़ों ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई और फिर पारंपरिक मंत्रोचार के बीच मंडप में सात फेरे भी लिए। इसके बाद आश्रम में बने शिव मंदिर में तीनों जोड़ों ने भगवान शिव का आशीर्वाद लिया।

RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR
हरिद्वार में 3 रूसी जोड़ों ने लिए सात फेरे

RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR:गढ़वाली कुमाऊँनी धुनों पर थिरके रूसी 

बता दें कि इस अनोखी शादी में सेंट पीटर्सबर्ग, मास्को जैसे शहरों से भी बाराती हरिद्वार आए थे। इस बरात में गढ़वाली और कुमाऊंनी गीतों की धुन भी बजी और रूसी जमकर बैग पाइपर, ढोल और दमांऊ की थाप पर थिरके। (RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR)जिसने भी रुसियों के इस अंदाज को देखा वो अपने आप ही इस समारोह में शामिल हो गया।

RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR
गढ़वाली कुमाऊँनी धुनों पर थिरके रूसी

इसके अलावा हरिद्वार में अखंड परमधाम घूमने आए पर्यटकों के लिए भी ये नजारा आकर्षण का केंद्र रहा। हर किसी  ने इस अनोखी शादी को अपने मोबाइल में  कैद किया।

स्वामी परमानंद गिरी ने बताया कि पाश्चात्य संस्कृति से ऊबकर रूसी नागरिकों ने भारतीय संस्कृति को अपनाकर विवाह किया और सात जन्मों तक एक दूसरे के साथ रहने का वचन लिया है।(RUSSIAN COUPLE WEDDING HARIDWAR)

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज