गड्ढे में फंसे राहुल को बचाने की कोशिश पिछले 42 घंटों से जारी, 50 फीट गहरे गड्ढे में फंसा है 10 साल का मासूम

0
153

दिल्ली, ब्यूरो : छत्तीसगढ़ के जांजगीर- चांपा जिले में बोरवेल के लिए खोदे गए गड्ढे में फंसे राहुल को बचाने की कोशिश पिछले 42 घंटे से जारी है। 10 साल का मासूम राहुल करीब 44 घंटे से 50 फीट गहरे गड‌्ढे में फंसा हुआ है। राहुल को बचाने के लिए गुजरात से रोबोटिक्स इंजीनियर महेश अहीर मौके पर पहुंच गए हैं। उनका कहना है कि पहले स्थिति का जायजा लेने के लिए बोरवेल के अंदर रोबोट को उतारा जाएगा। और जब रोबोट बाहर आएगा, तो उसके हिसाब से बच्चे को बाहर निकालने के लिए जरुरी तैयारी की जाएगी। रोबोटिक्स इंजीनियर का कहना है कि अगर सब कुछ ठीक रहेगा तो बच्चे को आधे घंटे में बाहर निकाल लेंगे।

वहीं दीवारों से रिस रहा पानी बोरवेल के अंदर भी भर गया है। उसे बर्तन की मदद से निकालने का काम जारी है। वहीं मासूम राहुल भी हिम्मत दिखाते हुए खुद बाल्टी से पानी भरने में मदद कर रहा है। प्रशासन की टीम ने राहुल तक रस्सी से खाने की सामग्री पहुंचाई है। प्रशासन ने आसपास के इलाके को लोहे की रॉड लगाकर सील कर दिया है। ये भी पढ़े-IMA के बाहर वर्दी पहने घूम रहा फर्जी अफसर दबोचा, आर्मी इंटेलीजेंस कर रही पूछताछ

गड्ढे नें फंसा मासूम राहुल 3 1

मामला छत्तीसगढ़ के जांजगीर- चांपा जिले के पिहरीद गांव का है। जहां अपने घर के पीछे खेलते समय 10 साल का मासूम राहुल शुक्रवार दोपहर को बोरवेल के लिए खोदे गए गड्ढे में गिर गया था। तब से उसे बचाने की प्रशासन लगातार कोशिश कर रहा है। करीब 42 घंटों से प्रशासन, सेना और NDRF की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चला रखा है। लेकिन इसमें चट्‌टानों के चलते खुदाई पर असर पड़ा है। हालांकि आज सुबह 10 साल के मासूम बच्चे में हलचल दिखाई दी है। इसके बाद उसे जूस भी पीने को दिया गया है। बच्चे की हिम्मत और कोशिश ने भी रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे लोगों की उम्मीदें बना रखी है।ये भी पढ़े-दु:खद : तेज रफ्तार डंपर ने दो स्कूटी सवारों को कुचला, एक की मौत; एक गंभीर हालत में