इस मंदिर का प्रसाद नहीं ग्रहण कर सकती महिलाएं

0
103

Nirai Mata Mandir: अगर महिलाओं ने इस मंदिर का प्रसाद ग्रहण कर लिया तो हो जाती है उनके साथ अनहोनी 

Nirai Mata Mandir: हमारे देश में ऐसे कई मंदिर हैं जो अपने रहस्यों के लिए जाने जाते हैं, ये रहस्य कभी मंदिर की बनावट से जुड़े होते हैं तो कभी मंदिर (Nirai Mata Mandir) की कहानी से जुड़े, लेकिन भारत में एक मंदिर ऐसा भी है जहां महिलाओं का जाना वर्जित, न ही महिलाएं यहां पूजा कर सकती है और न ही यहां का प्रसाद ग्रहण कर सकती है। यहां तक की अगर किसी महिला ने यहां का प्रसाद भी ग्रहण कर लिया तो उस महिला के साथ कोई न कोई अनहोनी हो जाती है।

ये मंदिर छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिला मुख्यालय से करीबन 12 किलोमीटर दूर है जो निरई माता (Nirai Mata Mandir) का मंदिर है। ये मंदिर एक पहाड़ी पर स्थित है जो केवल 5 घंटे के लिए खुलता है। निरई माता का ये मंदिर सुबह 4 बजे से सुबह 9 बजे तक ही खुलता है, इस दौरान यहां श्रद्धालुओं की काफी भीड़ उमड़ पड़ती है।

ये भी पढ़ें:
stambheshwar mahadev temple
दिन में दो बार गायब हो जाता है भगवान शिव का ये रहस्यमयी मंदिर

माता के इस अनोखे मंदिर में सिंदूर, श्रृंगार, कुमकुम, गुलाल और सुहाग की अन्य चीजें नहीं चढ़ाई जाती बल्की नारियल और अगरबत्ती चढ़ाई जाती है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर (Nirai Mata Mandir) में नारियल और अगरबत्ती चढ़ाने से माता प्रसन्न होती है।

आपको बता दें कि साल भर में ये मंदिर केवल 5 घंटों के लिए ही खोला जाता है बाकी के दिनों में इस मंदिर परिसर में आना प्रतिबंधित है, लेकिन जब ये मंदिर खुलता है तो यहां हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ती है, इतनी भीड़ की इस भीड़ को संभालने के लिए यहां इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ता है।

प्रत्येक वर्ष इस मंदिर परिसर में चैत्र नवरात्र के मौके पर अपने आप ही ज्योति प्रज्जवलित होता है। यह चमत्कारिक ज्योति नौ दिनों तक अपने आप ही जलती रहती है वो भी बिना तेल और घी के। इस पहाड़ में ये ज्योति बिना तेल और घी के कैसे जलती है इस पर आजतक रहस्य ही बना हुआ है। कोई भी व्यक्ति इस रहस्य के पीछे की वजह को आज तक नहीं जान पाया है।

वहीं रहस्यों से भरे इस मंदिर (Nirai Mata Mandir) की एक और गुत्थी को भी आजतक कोई नहीं सुलझा पाया है और वो ये है कि निरई माता के मंदिर (Nirai Mata Mandir) में महिलाओं का जाना प्रतिबंधित है। इस मंदिर (Nirai Mata Mandir) में न ही महिलाएं प्रवेश कर सकती हैं और न ही पूजा पाठ कर सकती हैं। यहां तक की महिलाएं अगर इस मंदिर (Nirai Mata Mandir) का प्रसाद भी ग्रहण करती हैं तो उनके साथ कोई न कोई अनहोनी हो जाती है। इसी कारण इस मंदिर में केवल पुरुष ही जाते हैं और यहां जाकर माता की पूजा अर्चना करते हैं।

ये भी पढ़ें:
Kodungallur Bhagavathy Temple
यहां माता को क्यों देते हैं भक्त गालियां?

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com