मैनपुरी उपचुनाव में मुलायम के बाद चुनौतियाँ बेशुमार, क्या अखिलेश यादव हैं तैयार ?

0
31
mainpuri

Mainpuri उपचुनाव के लिए अखिलेश यादव ने किया कार्यकर्ताओं के साथ मंथन, जल्द ही घोषित होगा उम्मीदवार

जब से मुलायम सिंह यादव का निधन हुआ हुआ तब से ही समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की चुनौतियाँ बढ़ती ही जा रही हैं, चाहे परिवार के अंदर हो या पार्टी स्तर पर। अब ताज़ा चुनौती के रूप में Mainpuri उपचुनाव है। 6 नवम्बर को गोला सीट पर पार्टी की हार ने जून में आजमगढ़ और रामपुर संसदीय सीट पर पार्टी की हार की टीस को और बढ़ा दिया है। इसी बीच मुलायम के निधन से खाली हुई मैनपुरी संसदीय सीट और हेट स्पीच मामले में आजम खान को 3 साल की सजा के बाद रामपुर विधानसभा सीट पर 5 दिसम्बर को मतदान का ऐलान होने के बाद मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं।

Mainpuri में सपा की साख- रामपुर सीट पर भी मुश्किलें तमाम, कैसे होंगे अखिलेश पार ?

mainpuri

इस बार अखिलेश दो मोर्चों पर एक साथ फँसते नजर आ रहे हैं। जहां एक तरफ रामपुर का रण सपा के लिए मुश्किल खड़ी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर Mainpuri में यादव परिवार की सियासी ताकत की सबसे बड़ी परीक्षा होने वाली है। मैनपुरी सीट पर विगत 33 साल से मुलायम सिंह यादव ने पकड़ बना रखी थी और अब उनके निधन के बाद देखना है कि क्या होता है।

यह वही मैनपुरी सीट है जो सपा की सबसे सुरक्षित सीट मानी जाती है जहां कभी मुलायम जिसे चाहे चुनाव लड़वा देते थे और वो जीत भी जाता था। इस बार सारा माहौल सपा और अखिलेश के प्रतिकूल है और सामने 2024 का चुनाव भी है। अगर इन दोनों सीटों पर सपा हारी तो तो इसका गलत संदेश 2024 के लिए जाएगा और पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट जाएगा।

ये भी पढ़ें काशी में कार्तिक पूर्णिमा पर मनाई जाएगी भव्य देव दीपावली

Mainpuri उपचुनाव के लिए अधिकरियों और कर्मचारियों की छुट्टियाँ रद्द

Mainpuri लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव की घोषणा होने के बाद आचार संहिता लागू कर दी गयी है। डीएम अविनाश ने आचार संहिता लागू होते ही अधिकरियों और कर्मचारियों की छुट्टियाँ रद्द कर दी हैं। यदि कोई इमरजेंसी हो तो डीएम से पूछ कर ही जा सकते हैं। मैनपुरी के लिए शनिवार को ही निर्वाचन आयोग ने उपचुनाव की घोषणा की है।

For Latest Uttar Pradesh News Subscribe devbhoominews.com