जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में सेना के वाहनों पर हमला, 5 सैनिक शहीद

0
20
J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK
J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK

DEVBHOOMI NEWS DESK: जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में बीते गुरुवार को हथियारों से लैस आतंकवादियों की एक टुकड़ी ने के सेना के दो वाहनों पर हमला (J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK) कर दिया। बताया जा रहा है कि इस हमले में पांच सैनिक शहीद हो गए और दो घायल हो गए। सेना के अधिकारियों के द्वारा ये जानकारी दी गई है।

J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK
J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK

बताया गया है कि दहशतगर्दों ने पहले ग्रेनेड दागे, फिर अंधाधुंध गोलियां चलाई। हमले के बाद जवानों ने मोर्चा संभाला और जवाबी फ़ाइरिंग करते हुए मुंहतोड़ जवाब दिया।अधिकारियों के अनुसार बीते गुरुवार को राजोरी-थन्नामंडी-सुरनकोट रोड पर सावनी इलाके में हमला हुआ, जो कि भिंबर इलाके से जंगल के रास्ते से करीब 12 किलोमीटर दूर है।

J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK
J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK

कई दिनों से कर रहे थे रैकी

बता दें कि ये दहशतगर्द कई महीनों से इस इलाके की रेकी कर रहे थे और चप्पे-चप्पे के वाकिफ थे। वो जानते थे कि इस इलाके से सेना के वाहन गुजरते हैं, इसी का फायदा उठाकर आतंकियों ने हमले को अंजाम दिया। जम्मू कश्मीर में राजौरी, पुंछ और रियासी जिलों में इस साल मुठभेड़ों में अब तक 19 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए हैं। (J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK)वहीं दूसरी ओर सेना ने 28 आतंकवादी मार गिराए हैं। इन मुठभेड़ों में कुल 54 लोग मारे गए हैं।

ये भी पढिए-

PARLIAMENT SECURITY RESPONSIBILITY TO CISF
PARLIAMENT SECURITY RESPONSIBILITY TO CISF

संसद भवन की सुरक्षा का जिम्मा अब CISF के हाथों में

J&K POONCH LATEST TERROR ATTACK: पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट  ने ली हमले की जिम्मेदारी

इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) की शाखा पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट (पीएएफएफ) ने ली है। फिलहाल इलाके में सैन्य अभियान जारी है और अधिकारी अधिक जानकारी इकट्ठा करने और क्षेत्र में आतंकवादियों के खतरे को समाप्त करने की कोशिश में जुटे हैं। बता दें कि इस हमले से कुछ ही सप्ताह पहले पास राजौरी जिले में बाजीमाल वन क्षेत्र के धर्मसाल बेल्ट में गोलीबारी के दौरान दो कैप्टन सहित पांच सैन्यकर्मी शहीद हो गए थे।

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23

देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज