नाबालिग ने खुद रची अपने किडनैपिंग की झूठी कहानी, वजह जानकर सब हैरान

0
104
Haridwar kidnapping news
Haridwar kidnapping news

Uttarakhand Devbhoomi Desk: आज कल के बच्चे इतने शातिर हो गए हैं कि हम अंदाजा भी नहीं लगा सकते। उत्तराखंड के हरिद्वार जिले में 11 साल के बच्चे ने अपने ही किडनैपिंग की झूठी कहानी रच डाली। अपहरण की कहानी में बार-बार बयान बदलने पर (Haridwar kidnapping news) आखिरकार पूरा मामला सामने आ गया। उसने बताया कि ट्यूशन से बचने के लिए उसने ऐसा किया।

बच्चे की कहानी सुन दो दर्जन से अधिक सीसीटीवी कैमरे छाने गए लेकिन उनमें न तो बच्चा दिखा और न अपहरण करने वाले युवक। रात तक पुलिस ने स्पष्ट कर दिया कि बच्चे ने अपहरण की काल्पनिक कहानी बनाई थी। बच्चे ने पूछताछ में बताया कि ट्यूशन न जाने के लिए उसने यह कहानी बनाई और फिल्म देखकर उसने ये प्लान बनाया।

यह भी पढ़ें:
kbc junior with manya chamoli
KBC Juniors में उत्तराखंड की धूम: पहाड़ की बेटी ने जीता सबका दिल

Haridwar kidnapping news: कक्षा पांच में पड़ता है छात्र

पुलिस के मुताबिक 11 वर्षीय देव कक्षा पांचवीं में पढ़ता है। वह पीठ बाजार में संगीता टॉकीज के समीप रोजाना ट्यूशन पढ़ने जाता है। शुक्रवार शाम भी वह ट्यूशन के लिए निकला। लेकिन ट्यूशन नहीं पहुंचा। कुछ देर बाद उसने घर पहुंचकर (Haridwar kidnapping news) बताया कि उसे चार लोगों ने उसका रास्ता रोक लिया और उसे जबरदस्ती अपनी बाइक पर बैठा कर ले गए। देव ने पुलिस को बताया कि लोधमंडी में उसे युवक लेकर पहुंचे। जहां एक साधु रास्ते में खड़ा था। जिसे देखकर युवकों ने बाइक रोक दी। युवक उससे बात करने लगे। इसी बीच वह उनके चंगुल से निकल गया और किसी तरह बचकर घर पहुंचा।

यह भी पढ़ें:
Dehradun smart city latest news
इस तरह राष्ट्रपति के सामने आते-आते बचा Smart city का सच

इस बात कि सूचना पुलिस को मिलते ही ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी, एसएसआई अंशुल अग्रवाल, रेल चौकी प्रभारी सुधांशु कौशिक सहित तमाम पुलिसकर्मी उसके घर पहुंचे। बच्चे से पूछताछ की। उसके साथ ट्यूशन (Haridwar kidnapping news) जाने वाले रास्ते का मुआयना किया। शंका होने पर पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने सच उगल दिया। बताया कि मां की डांट और ट्यूशन जाने से बचने के लिए उसने झूठ बोला।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.