गुजरात के मोरबी में पुल टूटने से 132 लोगों की मौत, प्रधानमंत्री मोदी हुए भावुक और जताया शोक

gujarat

Gujarat मोरबी पुल हादसे की एसआईटी करेगी जांच, बचाव अभियान जारी-अब तक 132 लोगों की हो चुकी है मौत

Gujarat के मोरबी जिले में 233 मीटर लंबे पुल के टूट जाने से करीब 132 लोगों की जाने जा चुकीं हैं। कल शाम मोरबी के मच्छू नदी पर बने केबल पुल के टूटने से यह दर्दनाक हादसा हुआ।जिस समय यह हादसा हुआ करीब 300 से अधिक लोग पुल पर मौजूद थे। यह 233 मीटर लंबा पुल करीब 100 वर्ष पुराना था और मरने वालों में अधिकांश बच्चे और महिलाएं हैं जिनमे 50 लोग लापता हैं और 170 लोगों को बचा लिया गया। युद्ध स्तर पर बचाव कार्य जारी है।

Gujarat के मोरबी जिले में केबल पुल पर छठ पूजा के समय हुआ हादसा,100 साल पुराना पुल और नवीनीकरण था चालू

gujarat

बताया जा रहा है कि छठ पूजा के समय यह हादसा हुआ और करीब 300 लोग उस समय पुल पर मौजूद थे। अहमदाबाद से 200 किलोमीटर केबल पुल शाम 6.42 पर ढ्ह गया जब पूजा चल रही थी। जानकारी के अनुसार नदी के पानी में अब भी करेब 100 लोगों के फंसे होने की आशंका है। हादसे के बाद से सेना, एनडीआरएफ़ और फायर ब्रिगेड ज़ोर शोर से बचाव कार्य में लगे हुए हैं। सूत्रों ने बताया कि यह केबल ब्रिज एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल माना जाता है और करीब 7 महीने के लिए इसको नवीनीकरण के लिए बंद कर दिया गया था और अभी 26 अक्टूबर को फिर से खोला गया था।

ये भी पढ़ें अरविंद केजरीवाल ने चला गुजरात में पंजाब वाला दांव, जनता से पूछा किसे बनायें मुख्यमंत्री उम्मीदवार

Gujarat पुल हादसे पर प्रधानमंत्री ने जताया शोक, प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख राशि की घोषणा

Gujarat पुल हादसे पर प्रधानमंत्री ने गहरा शोक जताया है और कहा कि मोरबी में हुए त्रासदी से मुझे गहरा दुख हुआ है। पीएम ने इसको लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल से बात की और राहत और बचाव अभियान तेज करने को कहा। पीएम ने इसी के साथ प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख राशि की घोषणा भी की। दूसरी ओर राज्य में दिसम्बर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और इस पुल के गिरने से काँग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इस त्रासदी का ठीकरा भाजपा के सर पर फोड़ दिया है।

For Latest National News Subscribe devbhoominews.com