देश के वीर दिवंगत जनरल बिपिन रावत की पहली पुण्यतिथि आज

0
86
General Bipin Rawat Death Anniversary

Uttarakhand Devbhoomi Desk: 8 दिसंबर 2021 को तमिलनाडु के कुन्नूर के पास एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और भारतीय सशस्त्र बलों के 11 अन्य अधिकारियों की मौत हो गई थी। ऐसे में उनकी (General Bipin Rawat Death Anniversary) पहली पुण्यतिथि पर उनको पूरा देश उन्हे याद कर श्रद्धांजलि दे रहा है। सुरक्षा के लिए cds रावत द्वारा लिए गए साहसी फैसलों और उनके द्वारा दिए गए योगदान को देश हमेशा याद रखेगा।

यह भी पढ़े:
President Draupadi Murmu in Uttarakhand
आज से दो दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर रहेंगी राष्ट्रपति मुर्मू

General Bipin Rawat Death Anniversary: मूल रूप से पौड़ी के निवासी थे CDS बिपिन रावत

देश की सेना में सेवा करने वाले बलिदानी लोगों में से एक जनरल बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च, 1958 को उत्तराखंड के पौड़ी जिले में हुआ था। मूल रूप से वह पौड़ी जिले के साइना गांव के निवासी थे। बिपिन रावत ने देहरादून में ही भारतीय सैन्य अकादमी (General Bipin Rawat Death Anniversary) और खड़कवासला में राष्ट्रीय रक्षा अकादमी से भी डिग्री हासिल की थी। जहां उन्हें ‘स्वॉर्ड ऑफ ऑनर’ हासिल हुआ था। आर्मी प्रमुख बनने से पहले उन्होंने कई सैन्य विभागों में सेवा की।

यह भी पढ़े:
Haridwar breaking news
चलती कार पर अचानक कूदा बारहसिंघा, कई घायल

आपको बता दें कि 1 सितम्बर 2016 को उन्हें उप-सेना प्रमुख (General Bipin Rawat Death Anniversary) बनाया गया और 31 दिसम्बर 2016 को उन्होंने भारतीय सेना की कमान संभाली थी। इसके बाद 1 जनवरी 2020 को वे भारत के पहले सीडीएस बने थे। सीडीएस रहते सुरक्षा तंत्र के आधुनिकीकरण में उनका योगदान सदैव अविस्मरणीय रहेगा।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com