साइबर ठग बुन चुके है साइबर क्राइम का जाल, सावधान! कहीं आप भी न हो जाएं शिकार

0
32
Dehradun Crime
Dehradun Crime

Dehradun Crime: साइबर क्राइम के रोजाना आ रहे हैं 3 से 4 मामले

Uttarakhand News Desk: राजधानी दून में इन दिनों साइबर ठगी (Dehradun Crime) के कई मामले सामने आ रहे हैं। दून में कई ठग बिना महनत करे दूसरों के पैसों पर बूरी नजर रखे हैं और नए नए तरीकों से लोगों के अकाउंट से पैसा निकाल रहे हैं। इन साइबर ठगों में कोई अपने आप को बैंक का मैनेजर बता रहा है तो कोई सेना का जवान। ऐसा करके इन ठगों ने लोगों के बैंक खातों से लाखों की धनराशी निकाल ली है। दून में रोजाना साइबर ठगी के 3 से 4 मामले सामने आ रहे हैं।  

इनमें से साइबर ठगी का एक मामला देहरादून के नेहरू कॉलोनी (Dehradun Crime) से सामने आया है, जहां दीपांकर दुग्गल नाम के एक व्यक्ति के अकाउंट से धोखे से 50000 रुपये निकाल लिए गए। दीपांकर ने बताया कि उन्होनें सोशल मीडिया पर अपने श्यामपुर प्रेमनगर स्थित घर को बेचने का पोस्ट डाला था जिसे देखकर उन्हें एक व्यक्ति का फोन आया जिसने अपने आप को सेना का एक जवान बताया।

इस व्यक्ति ने अपना नाम दीपक पंवार बताया और कहा कि उसकी पोस्टिंग लद्दाक में है। आरोपी ने आगे बताया कि कुछ ही महीनों में उसका ट्रांसफर देहरादून हो रहा है इसलिए वो यहां एक मकान खरीदना चाहता है, जिसके बाद इस व्यक्ति ने दीपांकर का मकान खरीदने की इच्छा जाहिर की और कहा कि वह कुछ धनराशी दीपांकर के अकाउंट में भेज रहा है ताकी वो इनके घर को बुक कर सके। इस दौरान आरोपी ने दीपांकर के फोन पर एक लिंक भेजा और इस लिंक पर क्लिक करते ही दीपांकर के अकाउंट से 50000 रुपये कट (Dehradun Crime) गए।

ये भी पढ़ें:
Mahabharat Facts
क्यों द्रौपदी अपने ही पति भीम के खून की थी प्यासी?

अकाउंट से पैसे कटते ही दीपांकर ने इसकी सूचना नेहरू कालोनी थाना को दी और मुकदमा दर्ज कराया, जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

इसके बाद साइबर ठगी (Dehradun Crime) का दूसरा मामला सामने आया है जीएमएस रोड से, जहां एक व्यक्ति के अकाउंट से 3 लाख 56 हजार रुपये धोखे से निकाल लिए गए। इस व्यक्ति का नाम हरि सिंह अधिकारी है जो व्योमप्रस्थ जीएमएस रोड का रहने वाला है।

इस व्यक्ति द्वारा 31 अक्टूबर को ऑनलाइन किसी को पैसे भेजे गए लेकिन उस व्यक्ति के पास पैसे पहुंचे नहीं और हरि सिंह के अकाउंट से ये पैसे कट भी गए, जिसके बाद हरि सिंह ने ऑनलाइन कस्टमर केयर का नंबर निकाला और कॉल किया तो ये नंबर किसी ठग ने उठाया जो खुद को बैंक का अधिकारी बता रहा था।

इसके बाद इस ठग ने पीड़ित को अपने फोन पर एनी डेस्क डाउनलोड करने को कहा जिसके बाद ठग द्वारा पीड़ित के अकाउंट से 3 लाख 56 हजार रुपये निकाल (Dehradun Crime) लिए गए। अकाउंट से पैसे कटने के बाद हरि सिंह ने इस बात की सूचना वसंत विहार थाने को दी और मुकदमा दर्ज कराया।

आपको बता दें कि इन दिनों जिस प्रकार साइबर क्राइम (Dehradun Crime) की घटनाएं बढ़ रही हैं उसको देखते हुए आप सभी को सचेत रहने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें:
Kamakhya Devi Mandir
इस मंदिर में क्यों है पुरुषों की एंट्री पर बैन?

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com