सीएम योगी का भ्रष्टाचार पर फिर प्रहार, रिश्वत के आरोपी डिप्टी एसपी को डिमोट कर बनाया एसआई

cm yogi

CM Yogi ने रिश्वत के आरोपी रामपुर के पुलिस अधिकारी को बनाया हवलदार, भ्रष्टाचार पर योगी सरकार का वार

उत्तर प्रदेश के CM Yogi ने एक बार फिर भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त एक्शन लेते हुए रामपुर के घूसखोर पुलिस अधिकारी को डिमोट करते हुए सिपाही बना दिया है। गृह विभाग ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि डिप्टी एसपी विद्या किशोर शर्मा को 2021 में रामपुर नियुक्त किया गया था जहां उन पर रिश्वत लेने का आरोप लगा था और जांच में दोष साबित होते ही सीएम योगी ने कड़ा एक्शन लिया। सीएम योगी अपनी ज़ीरो टालरेंस पालिसी के तहत रिश्वत लेने वाले एक अफसर को सब इंस्पेक्टर बनाने का निर्देश दिया।

CM Yogi की न्याय की तलवार-रहती हर दम तैयार, प्रमोशन पाकर डिप्टी एसपी बने थे थानेदार

cm yogi

CM Yogi अपनी ज़ीरो टालरेंस पालिसी के लिए हमेशा जाने जाते हैं। चाहे कोई भी हो भ्रष्टाचार पर हरदम तैयार रहती योगी की न्याय की तलवार। प्रमोशन पाकर डिप्टी एसपी बने थे थानेदार विद्या किशोर शर्मा जिनको 2021 में रामपुर में तैनाती मिली थी जहां उन पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे थे। एक मामले में महिला ने आरोप लगाया था कि स्वामी विवेकानन्द अस्पताल के संचालक विनोद यादव और तत्कालीन इंस्पेक्टर रामवीर यादव ने उसके साथ गैंगरेप किया था और पुलिस ने कोई कारवाई नहीं की।

इस मामले में तब सीओ रहे विद्या किशोर पर 5 लाख का घूस लेने का वीडियो वायरल हुआ था। इसके बाद जांच में दोनों आरोपियों पर कारवाई करते हुए एफआईआर दर्ज की गयी थी और तत्कालीन सीओ विद्या किशोर शर्मा को निलंबित कर दिया गया था। दोबारा सीएम योगी के आदेश पर जांच में दोषी पाये जाने पर मुख्यमंत्री ने सख्त एक्शन लेते हुए उनको डिमोट कर दिया।

ये भी पढ़ें पहले 20 लाख के गहने चुराये और फिर 4 लाख के लौटा दिये, गाज़ियाबाद में चोरी की अजीबोगरीब घटना

CM Yogi ने पेश की एक अनोखी नजीर, घूस लेते हुए सीओ का वीडियो हुआ था वायरल

CM Yogi के इस सख्त एक्शन ने सभी के लिए एक अनोखी नजीर पेश की है। बताते चलें कि रामपुर में एक जनसभा के दौरान महिला ने आत्मदाह की चेतावनी दी थी। यह वही महिला है जिसके साथ दोनों अस्पताल संचालक और इंस्पेक्टर ने गैंगरेप किया था और पुलिस ने कोई कारवाई नहीं की थी। इसी मामले में योगी सरकार ने दोबारा जांच कारवाई और दोषी पाये जाने पर सख्त कारवाई की।

For Latest Uttar Pradesh News Subscribe devbhoominews.com