अंकिता भंडारी हत्याकांड को एक साल पूरा, जानिए अब तक क्या क्या हुआ?

0
167
ANKITA BHANDARI MURDER CASE
ANKITA BHANDARI MURDER CASE

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK:उत्तराखंड के बहुचर्चित ANKITA BHANDARI MURDER CASE को आज एक साल पूरा हो गया है। इस मर्डर केस ने पूरे उत्तराखंड में ही नहीं पूरे देश में सुर्खियां बटोरी थी। 19 साल की अंकिता भंडारी पौड़ी जिले के गंगा भोगपुर में वनंतरा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी। उसकी हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गई थी, क्योंकि उसने रिजॉट में आने वाले VIP गेस्ट को स्पेशल सर्विस देने से इनकार कर दिया था। इस केस में पूर्व भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य पर रेप और हत्या के आरोप लगे, जिसमें सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता नाम के युवक भी उसके साथ थे।

ANKITA BHANDARI MURDER CASE
ANKITA BHANDARI MURDER CASE

बता दें कि अंकिता 8 सितंबर 2022 को लापता हुई थी। लापता होने से ठीक दस दिन बाद 18 सितंबर 2022 को चीला नहर में धक्का देकर उसकी हत्या कर दी गई थी। 24 सितंबर 2022 को अंकिता का शव चीला नहर से बरामद हुआ था। अंकिता के पिता-भाई ने शव उसका होने की पुष्टि की थी।

ANKITA BHANDARI MURDER CASE की गंभीरता को देखते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक पी. रेणुका देवी के नेतृत्व में एक SIT का गठन किया गया, जिसने बारीकी से जांच करने के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया और उनके खिलाफ करीब 500 पेज की चार्जशीट अदालत में दाखिल की, जिसमें 100 गवाहों को शामिल किया गया। जांच के बाद पता चला कि अंकिता ने स्पेशल सर्विस देने से मना कर दिया था इसके बाद रिज़ॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य उसका यौन शोषण करने लगा। रिजॉर्ट के ही कमरा नंबर 106 में मैनेजर सौरभ भास्कर ने भी उसके साथ कई बार दुष्कर्म करने का प्रयास किया था।

ANKITA BHANDARI MURDER CASE
ANKITA BHANDARI MURDER CASE

तीनों आरोपियों पर धारा 302 (हत्या), 201 (साक्ष्य छिपाना) और अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत आरोप तय किए गए हैं। इसके अलावा आरोपियों पर 500 पन्नों की चार्जशीट भी दाखिल की गई है। वहीं रिजॉर्ट को अवैध करार देकर गिरा दिया गया।

कॉलेज का नाम अंकिता के नाम पर रखा जाएगा

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अंकिता भंडारी के नाम पर डोभ(श्रीकोट) स्थित राजकीय नर्सिंग कॉलेज का नाम रखने की घोषणा की है। सोमवार को ANKITA BHANDARI MURDER CASE को एक साल हो जाएगा। मुख्यमंत्री के अनुसार हमारी सरकार बेटी अंकिता के परिजनों के साथ खड़ी है। प्रदेश की हर बेटी का सम्मान और उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए संकल्पबद्ध है।

ये भी पढ़ें-

KEDARNATH PRIEST STRIKE
KEDARNATH PRIEST STRIKE

केदारनाथ में आज से तीर्थपुरोहितों का आमरण अनशन, जानिए ये है वजह

ANKITA BHANDARI MURDER CASE के एक साल होने पर कांग्रेस का कैंडल मार्च

कांग्रेस ने पौड़ी में दिवंगत ANKITA BHANDARI MURDER CASE के एक साल पूरे होने पर न्याय यात्रा और श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करने का फैसला किया है। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विनोद नेगी ने कहा कि पौड़ी की बेटी अंकिता की आत्मा की शांति के लिए कांग्रेस कैंडल यात्रा निकालने जा रही है। उन्होंने सभी शहरवासियों से इस न्याय यात्रा में शामिल होने की अपील की है।

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज