ड्रोन उड़ाओ-पैसा कमाओ, जानें क्या है उत्तराखंड सरकार की ये योजना ?

0
247
agriculture drone
agriculture drone

Uttarakhand Devbhoomi Desk: उत्तराखंड सरकार राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए एक नई योजना लाई है, जिसके अंतर्गत अब 12वीं पास युवा ड्रोन (agriculture drone) उड़ा कर अच्छी इंकम बना सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं क्या है उत्तराखंड सरकार की ये जबरदस्त योजना जिससे राज्य के किसान और बेरोजगार युवा दोनों को फायदा होगा।

राज्य सरकार ने कृषि क्षेत्र में ड्रोन तकनीकी को बढ़ावा देने के लिए बेरिजगार युवाओं को इससे जोड़ दिया है। इसके लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के अधीन भारतीय मृदा एवं जल संरक्षण संस्थान और ड्रोनियर एविगेशन प्राइवेट लिमिटेड के बीच एमओयू के हस्ताक्षर किए गए।agriculture drone

Agriculture drone: 12वीं पास हो तो मौका है

जिसमें ये लिखा गए है की ड्रोनियर एविगेशन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 12वीं पास युवाओं को ड्रोन (agriculture drone) उड़ाने का रिमोट पायलट प्रशिक्षण दिया जाएगा। कल बुधवार 16 अगस्त को भारतीय मृदा एवं जल संरक्षण संस्थान के निदेशक डॉ. एम. मधु की मौजूदगी में ड्रोन पायलट प्रशिक्षण के लिए कंपनी के साथ एमओयू किया गया।

एमओयू में संस्थान के सीनियर जलविज्ञानी डॉ. ओजस्वी, प्रधान वैज्ञानिक डॉ. एम मुरुगानंदम, पीके सिंह, एचएन शर्मा, कंपनी से डॉ. राधेश्याम सिंह ने हस्ताक्षर किए। संस्थान के निदेशक ने बताया कि ड्रोन कैरियर की दिशा में सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) में ये पहला एमओयू है।

इससे बेरोजगार युवाओं को कृषि क्षेत्र में ड्रोन तकनीक को बढ़ावा देने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। ड्रोन (agriculture drone) समिति के अध्यक्ष डॉ. ओजस्वी ने देश में विशेष रूप से कृषि उपयोग पर जोर देते हुए ड्रोन पायलट प्रशिक्षण की क्षमता को गंभीरता से लेने को कहा।agriculture drone

उन्होंने बताया कि इस तरह की ड्रोन पायलट प्रशिक्षण सुविधाएं देश में बहुत सीमित हैं। उत्तराखंड में यह अपनी तरह की पहली सुविधा होगी।  उत्तराखंड में ड्रोन (agriculture drone) पायलट प्रशिक्षण का ये पहला प्रयास है जिसमें 12वीं पास छात्र ट्रेनिंग ले सकेंगे।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com