Yogi Sarkar 2 में क्या आ गया रामराज्य? NCRB के आंकड़े नंबर 1 की ओर करते इशारा

0
67
yogi sarkar

लखनऊ : Yogi Sarkar रामराज्य की ओर, NCRB के आंकड़े में यूपी दंगामुक्त 

Yogi Cabinet Meeting

आज NCRB ने उत्तर प्रदेश के आंकड़े पेश किये जिसमें यूपी को दंगामुक्त बताया गया है. NCRB आंकड़ों के अनुसार सिर्फ 1 मामला दर्ज हुआ है. NCRB 2021रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश लगभग दंगामुक्त हो गया है. इस रिपोर्ट के बाहर आते ही राजनितिक गलियारों में हलचल तेज हो गयी और खासकर सत्तापक्ष में बैठी बीजेपी का ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। बीजेपी अब इसको अपने पक्ष में बताते हुए “सबका साथ सबका विकास “के साथ जोड़ कर देख रही है और पूरे दिन ये आकंड़े ट्रेंड करते दिखे। बीजेपी एक हाथ आगे बढ़ते हुए ये इशारा कर रही है कि “योगी सरकार “में फिर से “रामराज्य “लौट रहा है.

Yogi Sarkar दिन भर करता रहा ट्रेंड,लोगों ने की जमकर तारीफ 

yogi sarkaar

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो [NCRB ] के आंकड़े बाहर आते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने yogi sarkar की जमकर तारीफ की. NCRB के आंकड़ों के तुरंत बाद Twitter पर “योगी राज-राम राज्य “दिन भर ट्रेंड करने लगा।

Yogi Sarkar और NCRB के आंकड़े 

NCRB ने अपनी 2021 की रिपोर्ट पेश की जिसमें यूपी को दंगामुक्त बताया गया। आंकड़ों के अनुसार यूपी में हत्या, अपहरण और महिला अपराध में भी कमी आयी है. आंकड़ों में आगे बताया गया है कि दूसरे राज्यों की तुलना में यूपी में सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं ना के बराबर हैं. आंकड़ों के अनुसार जहां झारखण्ड में 77, बिहार में 51और हरियाणा में 40 घटनाएं सामने आयी वहीं यूपी में सिर्फ 1 मामला दर्ज हुआ।   दूसरी ओर हत्या के मामले लगातार कम हुई हैं और डकैती का रेट 0.1 फीसद रहा। दूसरी ओर माफिया और गैंगस्टरों पर कड़ी कार्रवाई में 128 करोड़ की संपत्ति जब्त की गयी है.

Yogi Sarkar में यूपी सबसे सुरक्षित राज्य 

जहां योगी सरकार में महिलाओं और बच्चों के अपराध में कमी आयी है,वहीं अपराधियों की गिरफ्तारी,अभियुक्तों को सजा और cyber अपराधियों को सजा दिलाने में प्रथम रही है. ये सब आंकड़े इस बात की ओर इशारा और पुष्टि करते हैं कि फिलहाल यूपी इस समय सबसे सुरक्षित राज्य है. ये भी कहना गलत नहीं होगा कि इस उपलब्धि का सारा श्रेय खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके कुशल नेतृत्व को जाता है.

ये भी पढ़ेंYogi Cabinet Meeting : Yogi Cabinet ने लिया बड़ा फैसला, मेडिकल कॉलेजों में होगी बम्पर भर्ती