सैलानियों से भरी ओवरलोडेड नाव गंगा में पलटी, 34 लोग डूबे

0
76
varanasi Boat accident
varanasi Boat accident

Varanasi Boat Accident: हादसे का कौन है जिम्मेदार? प्रशासन या फिर नाविक?

Varanasi Boat Accident: जिला प्रशासन की नजर अंदाजी कहे या नाविकों का लालच लेकिन इसके चलते आज सबुह करीबन 34 सैलानी नदी में डूब गए। ये दर्दनाक हादसा (Varanasi Boat Accident) आज सुबह दक्षिण भारत में हुआ जहां नाव में कई सैलिनी सवार थे। ओवरलोडिंग होने के कारण नाव गंगा नदी में डूब गई जिसमें बैठे 34 सैलानी भी गंगा में ही डूब गए।

ये हादसा वाराणसी के अहिल्याबाई घाट के सामने हुआ जहां कई यात्रियों से भरी नाव गंगा नदी में पलट गई। ये हादसा सुबह करीबन 7 बजे हुआ, जैसे ही लोगों को दिखाई दिया कि इतने सारे लोग नदी में डूब रहे है वैसे ही घाट में चीख पुकार मच गई। स्थानीय नाविकों का कहना है कि जो यात्री नाव में सवार थे वो दक्षिण भारत के थे।

ये भी पढ़ें:
26 11 attack
14 साल गुजर जाने के बाद अब भी है जख्म हरे

इस घटना की सूचना जैसे ही प्रशासन को मिली वैसे ही प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। इसके बाद आनन फानन में एनडीआरएफ और जल पुलिस की टीमें मौके पर पहुंची और राहत बचाव कार्य शुरू किया गया। इस बचाव कार्य में सभी सैलानियों को सुरक्षित बारह निकाल लिया गया है लेकिन इनमें से 2 सैलानियों की हालत गंभीर बताई जा रही है।  

वहीं इस हादसे (Varanasi Boat Accident) के बाद प्रशासन और नाविकों की लापरवाही पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। हादसे के बाद नाविक मौके से फरार हो गया। ये हादसा मानकों का पालन न किए जाने के कारण हुआ जिसके बाद पुलिस द्वारा नाविक की खोज की जा रही है।   

ये भी पढ़ें:
Bageshwar Student News
बागेश्वर में ‘बेरहम’ बनी शिक्षिका! छात्र को बुरी तरह पीटकर किया जख्मी

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com