Union Bank of India Madannegi में 2 करोड़ से ज्यादा की हेराफेरी, खाता खाली होने पर उड़े होश

0
84
Union Bank of India Madannegi

नई टिहरी, ब्यूरो। Union Bank of India Madannegi नई टिहरी में एक बड़े गबन और हेराफेरी का मामला सामने आया है। Union Bank of India Madannegi चल रही 2 दिन की जांच में अभी तक 2 करोड़ से अधिक की हेराफेरी पकड़ी जा चुकी है। उत्तराखंड के टिहरी जिले से एक और बड़े बैंक (Union Bank of India Madannegi) में हुए गबन का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

कुछ दिन पहले ही टिहरी के प्रतानगर में मिनी बैंक में 20 लाख के गबन का मामला सामने आया था। वहीं, अब जाखणीधार विकासखंड के मदननेगी स्थित यूनियन बैंक (Union Bank of India Madannegi) में 2 करोड़ से अधिक की हेराफेरी का मामला आने से खाताधारकों और स्थानीय लोगों के होश उड़े हुए हैं। लोगों में अपने ही पैसा सुरक्षित न होने पर आक्रोश है। एक दिन पहले स्थानीय लोगों को जब इसकी खबर लगी तो उन्होंने बैंक (Union Bank of India Madannegi) में जमकर हंगामा काटा।

Union Bank of India MadannegiUnion Bank of India Madannegi के खातों से पैसा गायब होने की जानकारी मिलने पर अन्य खाताधारक भी मौके पर पहुंचे तो उनके भी पैसे गायब मिले। अभी तक 2 करोड़ से अधिक के गबन के आरोप में कैशियर समेत कई अन्य कार्मिकों और अफसरों पर कार्रवाई हो सकती है। बैंक मैनेजर और कैशियर को निलंबित कर दिया गया है। यूनियन बैंक के मुख्य महाप्रबंधक ने जांच के बार आरोपी कार्मिकों पर संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया जा रहा है। वहीं, मेहनत की कमाई खातों से गायब होने पर खाताधारक बिलख-बिख कर रो पड़े।

मामला हस्तांतरित होने पर करेंगे जांच

इस संबंध एसएसपी नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में है। उन्होंने बताया कि जाखणीधार ब्लॉक के मदननेगी के यूनियन बैंक में गड़बड़ी की सूचना मिलने पर शांति व्यवस्था के लिए वहां पुलिस कर्मी भेजे गए हैं। राजस्व क्षेत्र में हुई इस घटना की एफआईआर दर्ज होने पर जब तक मामला पुलिस को हस्तांतरित नहीं किया जाता है तब तक पुलिस जांच नहीं कर सकती है।

Union Bank of India Madannegi में 2 करोड़ से भी ज्यादा हो सकती है हेराफेरी

बता दें कि टिहरी जिले में बैंकों में गबन और बड़ी हेराफेरी के केस कम नहीं हो रहे हैं। कुछ माह पहले प्रतापनगर की मिनी बैंक में 20 लाख के गबन का मामला सामने आया था। वहीं, विगत शुक्रवार को जाखणीधार ब्लॉक के यूनियन बैंक में 2 करोड़ से अधिक के गबन और बड़ी हेराफेरी का केस सामने आने से खाताधारकों में हड़कंप मच गया। गड़बड़ी का पता चलते ही खाताधारकों ने सुबह पौने 10 बजे ही बैंक पहुंचकर अपने खाते चेक कराए। देखा तो खातों में धनराशि लापता है। इससे उनके होश उड़ गए।

Union Bank of India Madannegiबचत खातों के अलावा एफडी, सीडीआर की धनराशि में भी गबन कर दिया गया। बैंक के जांच अधिकारी देर रात तक खातों की जांच में जुटे रहे। उन्होंने कहा कि इस मामले में बैंक कैशियर और अन्य दोषी कर्मचारियों के खिलाफ शीघ्र की रिपोर्ट दर्ज कराएंगे। फिलहाल बैंक मैनेजर और कैशियर को निलंबित कर जांच की जा रही है। जल्द ही हर आरोपी के खिलाफी केस दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि नई टिहरी जिले के जाखणीधार विकासखंड के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया मदननेगी में गबन का बड़ा मामला सामने आया है। लंबे समय से की जा रही गड़बड़ी का खुलासा तब हुआ जब एक सप्ताह पहले मदननेगी यूनियन बैंक के एक खाताधारक ने क्षेत्रीय कार्यालय में शिकायत करते हुए बताया कि उन्होंने गत माह 15-16 अगस्त को एक चेक आरटीजीएस कराया था, लेकिन 23 अगस्त तक भी चेक क्लीयर नहीं हुआ।

बैंक मैनेजर नहीं दे पाया जवाब तो पहुंचे मुख्य प्रबंधक जांच करने

इस बारे में जब क्षेत्रीय कार्यालय से Union Bank of India Madannegi के बैंक मैनेजर को फोन आया तो वह संतोषजनक जबाव नहीं दे पाये। इस पर किसी गड़बड़ी की आशंका जताते हुए क्षेत्रीय कार्यालय से मुख्य प्रबंधक संजय उपाध्याय टीम के साथ विगत गुरुवार को यूनियन बैंक मदननेगी पहुंचे। मुख्य प्रबंधक ने बताया कि खातों की जांच करने पर दो दिन में दो करोड़ रुपये से अधिक की गड़बड़ी पकड़ में आई है।

Union Bank of India Madannegi हेराफेरी की जांच पूरी होने पर मुख्य आरोपी बैंक कैशियर सुमेश डोभाल और अन्य दोषी पाए जाने वाले कार्मिकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जा रही है। शुक्रवार को खाताधारकों को गबन की भनक लगते ही वह अपने खाते चेक करने सुबह से ही लाइन पर लग गए।

खून पसीने की कमाई गायब हुई तो रो पड़े

बचत खाते से खून-पसीने की कमाई गायब होने पर कई लोग तो रोने भी लगे। जिला पंचायत सदस्य बलवत सिंह रावत ने गबन की राशि खाताधारकों को जल्द वापस दिलाने और दोषी बैंक कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि घोटाले इस तरह होते रहे तो लोगों का भरोसा बैंकों से उठ जाएगा।Union Bank of India Madannegi

खातों से रकम गायत होने पर उड़ गए होश, बिलख बिलख रोए

Union Bank of India Madannegi में खातों से पैसे गायब होने की भनक लगने पर जब बैंक उपभोक्ता चेक करने पहुंचे खाते में जमा रकम गायब मिली। इससे उनके होश उड़ गए। ग्राम पंचायत खोला के खाताधारक गणेश चमोली बैंक खाते से 20 लाख रुपये और उनकी मां के खाते से 3 लाख रुपये, सांदणा के धूम सिंह रावत के खाते से 13 लाख, भूरी देवी के खाते से 16 लाख और कंगसाली के महावीर सिंह चैहान के खाते से 10 लाख रुपये गायब मिले। मददननेगी के मनीष नेगी की सीडीआर भी गायब थी।

यह भी पढ़ें: 

Agniveer Bharti को निकला चुनेर का युवक बन गया चोर, Police कस्टड़ी से गंगा में कूदा