ठंड से बचाव के लिए अंगीठी सेंकना पड़ा भारी, अजन्मे बच्‍चे की मौत

0
259
unborn child died in nainital

Uttarakhand Devbhoomi Desk: पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और शीतलहर के चलते तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। हालात ये बन गये हैं कि बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक ठंड से राहत (unborn child died in nainital) पाने के लिए अंगीठी जला रहे हैं। इस बीच एक खबर सामने आई है कि अब बढ़ती ठंड में अंगीठी सेंकना भी खतरे का सबब बन गया। बता दें कि नैनीताल में अंगीठी की गैस लगने से दंपती मूर्छित हो गया। इस दौरान गर्भवती महिला के गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गयी। बताया जा रहा है कि फिलहाल महिला को अस्पताल में भर्ती करया गया है जहां उसका उपचार चल रहा है।

यह भी पढ़ें:
winter storm havoc in america
अमेरिका में बर्फीले तूफान ने मचाई तबाही, 60 लोगों की मौत

unborn child died in nainital: ऑपरेशन कर निकाला जाएगा मृत भ्रूण

जानकारी के मुताबिक तल्लीताल निवासी ललित व उसकी पत्नी दीपिका ने शनिवार रात कमरे में अंगीठी जलाई थी। ऐसे में देर रात एकाएक अंगीठी की गैस सिर चढ़ने पर उसने फोन कर पड़ोसियों को सूचना दी। पड़ोसियों जब तक उसके घर पहुंचे (unborn child died in nainital)तब तक दोनों मूर्छित पड़े मिले। आनन फानन में उन्हे अस्पताल ले जाया गया। सुबह होश में आने के बाद चिकित्सकों ने महिला के गर्भवती होने की जानकारी दी। अल्ट्रासाउंड कराने पर गर्भ में पल रहे भ्रूण की मौत की पुष्टि हुई। उन्होंने बताया कि फिलहाल महिला ऑब्जर्वेशन के लिए अस्पताल में भर्ती रहेगी। 24 घंटे बाद ऑपरेशन कर मृत भ्रूण को निकाला जाएगा।

 
mussoorie winterline carnival 2022
अनोखे अंदाज में सीएम धामी ने दिया फ‍िटनेस का मंत्र

इस हादसे के बाद से लोगों में दहशत (unborn child died in nainital) का माहौल बन गया है। वहीं बताया जा रहा है कि अंगीठी में कोयला व लकड़ी जलाने से कार्बन मोनो आक्साइड का लेवल बढ़ जाता है। ऐसे में अगर इसे बंद कमरे जलाया जाता है जहां आक्सीजन लेवल कम होता है तो ये एक बड़ा खतरा बन सकता है। इसी को देखते हुए ध्यान रखे कि कमरे में अंगीठी जलाने पर खिड़की दरवाजे खुले रखें।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com