इस स्कूल में खाली कुर्सियां संवार रहीं हैं देश का भविष्य

0
149

Tharali News: गुरुजी गायब ,बच्चे धूप सेकने में मस्त

थराली (संवाददाता- मोहन गिरी): कहते हैं न बच्चे देश का भविष्य होते हैं और इन बच्चों को बेहतर शिक्षा दीक्षा देकर इन छात्र छात्राओं का भविष्य तय करते हैं शिक्षक, लेकिन राजकीय इंटर कालेज घेस (Tharali News) में तो कुछ और ही तस्वीर देखने को मिल रही है।

कक्षाओं से इतर खुली धूप में छात्र छात्राएं पठन पाठन का कार्य कर रहे हैं। चलिए एक बार के लिए मान भी लें कि मौसम सर्द है, गुरुजी ने बच्चों की सेहत का ध्यान रखा और धूप में पढ़ाने के लिए स्कूल की छत पर ले आए, लेकिन शायद सेहत का ध्यान रखते रखते गुरुजी बच्चों के भविष्य का ध्यान रखना ही भूल गये।

tharali school news

राजकीय इंटर कालेज घेस (Tharali News) में ऐसा नजारा देखने को मिला जो पहाड़ी क्षेत्रों के स्कूलों पर अब कई सवाल खड़े किए है, यहां कुछ छात्र छात्राएं किताबें खोले बैठे हैं तो कुछ चटक धूप का आनंद लेते साफ तौर पर दिखाई दे रहे हैं, लेकिन इन्हें पढ़ाने वाले शिक्षकों का इंतजार इनमें से कुछ बच्चे भी कर रहे हैं और ये खाली कुर्सियां भी कर रही हैं।

अब छत (Tharali News) पर रखी गईं किसी एक कक्षा के सामने कुर्सी खाली हो तो इसे संयोग मान लें, लेकिन इसी छत पर पांच- पांच कक्षाएं संचालित हो रही हैं और इनमें से किसी भी कक्षा के छात्र- छात्राओं को पढ़ाने के लिए रखी गयी कुर्सी पर एक भी शिक्षक मौजूद नहीं है।

ये भी पढ़ें:
Diamond Planet
क्या पृथ्वी पर होगी हीरों की बारिश?

ये तस्वीरें 12 दिसम्बर की हैं जिस दिन घेस के इसी इंटर कॉलेज के एक हॉल में बीडीसी की बैठक का भी आयोजन किया गया था। वहीं राजकीय इंटर कालेज (Tharali News) के प्रधानाचार्य सन्दीप कुमार से जब इस बारे में पूछा गया तो वह गोलमोल जवाब देते हुए नजर आए।

स्कूल के प्रधानाचार्य विद्यालय में शिक्षकों की कमी का हवाला देते हुए नजर आए, उनके मुताबिक विद्यालय (Tharali News) में कई पद रिक्त चल रहे हैं और सिर्फ 5 परमानेंट अध्यापक और 3 गेस्ट टीचर अध्यापन कार्य के लिए उपलब्ध हैं, लेकिन तस्वीरें बता रही हैं कि 8 अध्यापकों की मौजूदगी के बावजूद छत पर धूप सेकते इन छात्र छात्राओं को पढ़ाने की जहमत एक भी अध्यापक न उठा सका।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com