चारों धामों ने ओढ़ी बर्फ की चादर, ठंड के बाद भी यात्रियों के उत्साह में कमी नहीं

0
174
SNOWFALL IN CHARDHAM
SNOWFALL IN CHARDHAM

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK:उत्तराखंड में ठंड ने दस्तक दे दी है, राज्य में बीते दो तीन दिनों से झमाझम बारिश और बर्फ बारी(SNOWFALL IN CHARDHAM) का दौर चल रहा है। इसके साथ ही राज्य के चारों धामों में भी बर्फबारी हुई हुई है। राज्य के अधिकांश इलाकों में तापमान में कमी देखी गई है और लोगों के गरम कपड़े बाहर निकल गए हैं।

केदारनाथ में हुई बर्फबारी

बीते सोमवार को भी लगातार दूसरे दिन केदारनाथ में बर्फबारी हुई। बर्फ गिरने से धाम में मौसम बहुत ठंडा हो गया है। बता दें कि मंदिर परिसर और आस पास के स्थानों पर दो से चार इंच तक बर्फ जम गई है। (SNOWFALL IN CHARDHAM)इसके अलावा निचले इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है।

इस बीच बर्फबारी के बाद भी यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं का उत्साह कम नहीं हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार केदारनाथ में अधिकतम तापमान माइनस 1 व अधिकतम तापमान माइनस 4 डिग्री रहा।

SNOWFALL IN CHARDHAM
SNOWFALL IN CHARDHAM

SNOWFALL IN CHARDHAM:यमुनोत्री में भी बर्फबारी, यात्रा अनवरत चलती रही

यमुनोत्री धाम और यमुना घाटी में भी झमाझम बारिश हुई है। यमुनोत्री धाम के ऊपर बुग्यालों  और चोटियों सप्त ऋषि कुंड, बंदरपूंछ, कालिंदी पर्वत, गरुड़ गंगा टाप पर बर्फबारी हुई  है। बारिश बर्फबारी के चलते तापमान में गिरावट आ गई। इलाके में ठंड से लोग घरों में दुबके हैं। यमुनोत्री धाम में बर्फबारी का श्रद्धालु लुत्फ उठा रहे हैं, इतनी मुश्किलों के बाद भी यात्री बड़ी संख्या में धाम पहुँच रहे हैं।
process aws

बदरीनाथ और हेमकुंड में हुई बर्फबारी

चमोली जिले में बदरीनाथ और हेमकुंड में बर्फबारी हुई थी। (SNOWFALL IN CHARDHAM)बदरीनाथ धाम और आस पास की चोटियों में जमी बर्फ को तीर्थयात्रियों ने अपने कैमरों में कैद किया। बदरीनाथ धाम में बर्फबारी के साथ ही ठंड भी महसूस होने लगी। धाम के आस पास के कम ऊंचाई वाले  स्थानों पर तेज आंधी-तूफान के साथ रुक-रुक कर वर्षा हुई।

ये भी पढिए-

UTTARAKHAND LATEST WEATHER UPDATE
UTTARAKHAND LATEST WEATHER UPDATE

उत्तराखंड में मौसम ने ली करवट, कहीं बारिश तो कहीं बर्फबारी हुई

बर्फबारी के बीच तुंगनाथ में नए शीर्ष की स्थापना

पंचकेदार में शामिल तृतीय केदार तुंगनाथ मंदिर में बीते चार सितंबर को पुरानी जीर्ण छतरी को उतारा गया था व कलश को मंदिर गर्भगृह में रखा गया था। बीते सोमवार को तुंगनाथ में बारिश के बाद बर्फबारी शुरू हो गयी थी। (SNOWFALL IN CHARDHAM)इसके बाद भी कलश को पूजा के बाद गर्भगृह से निकालकर हक हकूकधारियों व पश्वागणों की उपस्थिति में पूजा-अर्चना के साथ मंदिर के शीर्ष में लगाया गया।

Untitled 30
तुंगनाथ में नया शीर्ष स्थापित

गंगोत्री में भी हुई थी बर्फबारी

गंगोत्री धाम में भी पिछले हफ्ते शनिवार रात को हल्की बर्फबारी देखी गई थी। बर्फबारी के चलते जहां धाम से लगी पहाड़ियों ने सफेद चादर ओढ़ ली। इसके साथ ही तापमान में गिरावट से धाम में  ठंड बढ़ गई है।

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23

देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज