Shrikant Tyagi को षडयंत्र रचकर जेल डाला, महापंचयत में उमड़े लाखों Tyagi समाज के लोग

0
289
Shrikant Tyagi mahapanchayat

नोएडा, ब्यूरो। श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) को बेवजह के मामलों में षडयंत्र के तहत फंसाकर जेल डालने के बाद त्यागी समाज में आक्रोश व्याप्त है। त्यागी समाज के लाखों सदस्य इस मामले में MP महेश शर्मा के खिलाफ आज उत्तर प्रदेश के गौतबुद्धनगर (नोएडा) के रामलीला मैदान में महापंचायत कर रहे हैं। महापंचायत में 1 लाख से ज्यादा त्यागी समाज के लोग सांसद महेश शर्मा के खिलाफ प्रदर्शन करने के बाद एकत्रित हुए हैं। इससे नोएडा के चारों ओर जाम लगा हुआ है।

shrikant tyagi case mahapanchayat shrikant tyagi case mahapanchayat shrikant tyagi case mahapanchayat Shrikant Tyagi को वेबजह फंसाने का आरोप

इसके साथ ही वह श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) को वेबजह की अलग-अलग धाराओं में फंसाने का आरोप भी लगा रहे हैं। उनके अनुसार मामला कुछ का कुछ बना दिया गया है। एक महिला के साथ नोएडा की एक सोसायटी में श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) की एक शाॅर्ट वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस और राजनीतिक लोगों ने इसमें हस्तक्षेप करते हुए बेवजह श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) को फंसाया है। उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच करने के साथ ही षड़यंत्र के तहत फंसाए गए (Shrikant Tyagi) श्रीकांत त्यागी को इंसाफ दिलाने और आरोपी नेताओं और पुलिस वालों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।

देखें महापंचायत की वीडियो: 

shrikant tyagi case mahapanchayat

MP महेश शर्मा को दी थी Shrikant Tyagi मामले भूस भरने की चेतावनी

इससे पहले भी त्यागी समाज के एक नेता का Shrikant Tyagi मामले को लेकर वीडियो और मोबाइल रिकाॅर्डिंग आडियो वायरल हुए थे। इसमें में पूर्व मंत्री और MP नोएडा-गाजियाबाद महेश शर्मा को फोन पर ही भूस भरने की चेतावनी दी गई थी। इसके साथ ही भाजपा प्रवक्ता संवित पात्रा को भी खूब खरी-खोटी सुनाई गई। अब देखना होगा कि आज त्यागी समाज की Shrikant Tyagi मामले को लेकर हो रही इस महापंचायत में अब आगे की क्या रणनीति बनाई जाती है। Shrikant Tyagi को इंसाफ दिलाने के लिए त्यागी समाज के लाखों लोग अलग-अलग जिलों से महापंचायत के लिए नोएडा में एकत्रित हुए हैं।

त्यागी समाज के लोग डॉ महेश शर्मा और बेवजह Shrikant Tyagi को फँसाने वालों के खिलाफ एकजुट हो गए हैं। आज को नोएडा में एक महापंचायत हो रही है। त्यागी समाज की ये महापंचायत बड़े स्तर पर हो रही है। इसमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलग अलग जिलों से लोग शामिल हुए हैं। तस्वीरों और वीडियो में आप देख सकते हैं, लाखों त्यागी समाज के लोग, “MP महेश शर्मा मुर्दाबाद, त्यागी एकता जिंदाबाद” आदि कई नारे लगाते हुए आगे बढ़ रहे थे।

shrikant tyagi case mahapanchayat

महापंचायत में UP के कई जिलों से लाखों लोग हुए एकजुट

त्यागी समाज के लोगों का आरोप है कि श्रीकांत त्यागी को षड़यंत्र के तहत फसांया गया है। इसको लेकर समाज के लोगों ने यह महापंचायत नोएडा में बुलाई है। महापंचायत के बाद आगे की रणनीति तय की जा रही है। त्यागी समाज ने दावा किया है कि इस महापंचायत में UP के  कई जिलों से लाखों लोग एकजुट हो रहे हैं।

Shrikant Tyagi matter mahapanchayat

Shrikant Tyagi से जुड़ा ये है पूरा मामला

विगत 5 अगस्त को नोएडा की एक सोसायटी में श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) का एक महिला से गाली गलौज करते हुए वीडियो वायरल हुआ था। मामले को तूल पकड़ता देख पुलिस ने तुरंत केस दर्ज कर Shrikant Tyagi को अरेस्ट करने के लिए दबिश दी, लेकिन श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) इस बीच UP से ही फरार हो गया। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए उस पर गैंगस्टर एक्ट लगा ₹25000 का ईनाम घोषित कर दिया। पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में जुट गयी। श्रीकांत त्यागी यूपी से उत्तराखंड के ऋषिकेश, हरिद्वार के साथ ही जगह-जगह भागता गया और आखिरकार मेरठ से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया और जेल भेज दिया।

shrikant tyagi case mahapanchayat

महापंचायत कर रहे त्यागी समाज की यह है मांग

नोएडा में आज लाखों की संख्या में त्यागी समाज के लोग महापंचायत में एकजुट हुए हैं। इस महापंचायत को हर समाज का समर्थन भी मिल रहा है। इस महापंचायत की घोषणा भारतीय किसान यूनियन के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उपाध्यक्ष मांगेराम त्यागी ने की थी। उन्होंने मांग की है कि इस मामले में दोषी पुलिसकर्मियों को सजा मिले। जिन्होंने श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) के परिवार के साथ अन्याय किया और साथ ही इस मामले में MP महेश शर्मा के खिलाफ उच्च स्तरीय जांच की मांग त्यागी समाज कर रहा है।

यह भी पढ़ें: श्रीकान्त त्यागी प्रकरण में नोएडा सांसद को किसान नेता ने दी भूस भरने की चेतावनी, सुनें वायरल ऑडियो

यह भी पढ़ें: Shrikant Tyagi मामला – नोएडा में कल पंचायत, त्यागी समाज कर रहा है ये मांग