राजधानी दून में धर्मांतरण का मामला- इलाज के नाम पर हो रहा था धर्म परिवर्तन 

Religious Conversion case in Dehradun

Religious Conversion case in Dehradun: उत्तराखंड में धर्मांतरण का मामला रूकने का नाम नही ले रहा है। इस बीच राजधानी देहरादून से फिर एक ऐसी खबर सामने आई है। बता दें कि देहरादून में डालनवाला क्षेत्र इलाके में जबरन धर्म परिवर्तन करने का मामला सामने आया है।

बताया जा रहा है कि यहां लोगों को बहला फुसलाकर ज़बरन उनका धर्म परिवर्तन (Religious Conversion case in Dehradun) किया जा रहा था।ऐसे में वहां मौजूद कुछ लोगों ने इसको लेकर विरोध किया और जमकर बवाल हुआ। वहीं अब इसपर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इस मामले की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Religious Conversion case in Dehradun: हिंदू संगठन के लोगों ने लगाया आरोप

आपको बता दें कि बीते रविवार को देहरादून के ईसी रोड स्थित एक मकान के बाहर हिंदू संगठन के कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि यहां प्रार्थनासभा चल रही थी। इस दौरान एक धर्म गुरु ने प्रवचन दिए। प्रवचन के बाद उन्होंने 40 हिंदुओं पर जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया। इसे लेकर हिंदू संगठनों ने विरोध किया और जमकर हंगामा किया।

यह भी पढ़े:
Superstition Mountains
इन पहाड़ियों में छिपा है अरबों खरबों का सोना

इंस्पेक्टर डालनवाला एनके भट्ट ने बताया कि इस बात की सूचना मिलते ही फोर्स को मौके पर भेजा गया और धर्म गुरु को चौकी लाया गया। इंस्पेक्टर एनके भट्ट ने आगे बताया कि छत्रपाल नाम के व्यक्ति ने शिकायत की कि उस घर में होने वाली प्रार्थना में वो भी शामिल था और उसे इलाज के नाम पर बुलाया गया था। लेकिन, जैसे ही वो पहुंचा तो उसका धर्मांतरण (Religious Conversion case in Dehradun) करवाया जा रहा था। उसकी तहरीर पर पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाया है।

Religious Conversion case in Dehradun

वहीं इस मामले पर डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि जबरन धर्मांतरण किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं होगा। ऐसा करने वालों पर पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

यह भी पढ़े:
Uttarakhand bridges found unsafe
उत्तराखंड में कभी भी हो सकता है मोरबी जैसा हादसा! इन 3 दर्जन पुलों पर असुरक्षित है सफर

Religious Conversion case in Dehradun: 2018 में बनाया गया था धर्मांतरण कानून

बता दें कि उत्तराखंड में बढ़ते धर्मांतरण के मामलों (Religious Conversion case in Dehradun) पर रोक लगाने के लिए राज्य सरकार साल 2018 में धर्मांतरण कानून को बनाया था। इसको लेकर प्रदेश सरकार ने हाल ही में हुई कैबिनेट बैठक में कठोर कानून का प्रस्ताव पास किया था। लेकिन, रविवार को देहरादून से फिर ऐसा मामला सामने आने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आपको बता दें कि 2018 के बाद से अभी तक धर्मांतरण को लेकर यह छठवां मामला दर्ज हुआ है जबकि अन्य सभी पर जांच जारी है। 

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com