क्या सच में मिटा दिए हैं अंकिता हत्याकांड के सबूत, अंकिता के माता-पिता बैठे धरने पर

0
220
Ankita Murder Case

Uttarakhand News: Ankita Murder Case: ऋषिकेश में अंकिता हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराने की मांग को लेकर युवा न्याय संघर्ष समिति द्वारा धरना दिया जा रहा है। अपनी बेटी को न्याय दिलाने के लिए अंकिता के माता-पिता भी धरने में बैठे। साथ ही उन्होंने एसआईटी पर सवाल भी खड़े कर दिये।

Ankita Murder Case: 41 दिनों से चल रहा है धरना

Ankita Murder Case

अंकिता भंडारी हत्या ( Ankita Murder Case) मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग को लेकर ऋषिकेश में 41 दिनों से धरना प्रदर्शन चल रहा है। युवा न्याय संघर्ष समिति द्वारा यह धरना प्रदर्शन जारी है। अब इस समिति के कुछ सदस्य क्रमिक अनशन और आमरण अनशन भी कर रहे हैं। इस धरना प्रदर्शन में शामिल होने के लिए अंकिता के माता- पिता अपने गांव से यहां पहुंचे हुए हैं।

Ankita Murder Case: एसआईटी पर नहीं है भरोसा

Ankita Murder Case

यहां धरना देते हुए अंकिता के पिता वीरेंद्र भंडारी का कहना है कि वे लगातार इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग कर रहे हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्होंने एसआईटी की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किये हैं और कहा कि घटना के अगले दिन ही सारे सबूत मिटा दिये गये थे। जहां आरोपी रहते थे उसमें आग लगा दी गई है। ऐसे में जब सबूत नष्ट हो गये हैं तो फिर न्याय कैसे मिलेगा।

Ankita Murder Case: आरोपियों का नार्को टेस्ट कराने की मांग

Ankita Murder Case

अंकिता के पिता का कहना है कि जब तक उन्हें न्याय नहीं मिलता है और जांच सीबीआई को नहीं सौंपी जाती है तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। साथ ही उन्होंने आरोपियों के नार्को टेस्ट कराने की भी मांग की है। उनका कहना है कि ऐसा होता है तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। इस मौके पर भारी संख्या में स्थानीय लोगों ने उन्हें अपना समर्थन दिया।

ये भी पढ़ें…उत्तराखंड में कभी भी हो सकता है मोरबी जैसा हादसा! इन 3 दर्जन पुलों पर असुरक्षित है सफर