पति-पत्नी मिलकर चला रहे थे देह व्यापार का धंधा, 4 महिलाओं समेत 8 अरेस्ट

0
492

आपत्तिजनक सामान के साथ ही दस मोबाइल, 4000 नकद और अन्य चीजें भी बरामद

हल्द्वानी, ब्यूरो। उत्तराखंड पुलिस ने एक दिन पहले हल्द्वानी के लालडांठ रोड पर एक किराये के मकान में देह व्यापार का गंदा काम चल रहा था। पुलिस और एसओजी की टीम ने इस किराये के मकान से चार पुरुष और चार महिलाएं गिरफ्तार किया है। सबसे बड़ी बात यह भी है कि इनमें दो लोग पति-पत्नी भी हैं। सभी आरोपियों को पुलिस आज गुरुवार को कोर्ट में पेश किया है।

पूछताछ में पता चला कि देह व्यापार के धंधे को आरोपी अनारूल और उसकी पत्नी संचालित करते थे। उनका एक छोटा बच्चा भी है। करीमगंज निवासी हैदर और उसकी पत्नी भी इन दोनों के माध्यम से जुड़े थे। कोलकाता निवासी एक महिला और दिल्ली की युवती इनके संपर्क में आकर गलत पेशे में उतर गई। दूसरी ओर काठगोदाम के दो युवक इनके पुराने ग्राहक होने के साथ डिलीवरी ब्याय के तौर पर भी काम कर रहे थे। डिमांड पर महिलाओं को दूसरी जगहों पर भी भेजा जाता था।

sex scandale

एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल और एसओजी ने एक किराए के मकान पर छापा मारकर आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें चार पुरुष व चार महिलाएं शामिल हैं। मौके से आपत्तिजनक सामान के साथ ही दस मोबाइल, 4000 नकद और अन्य चीजें भी बरामद हुई हैं। एंटी हृयूमन ट्रैफकिंग सेल और एसओजी को सूचना मिली थी कि लालडांठ क्षेत्र में स्थित एक किराये के मकान में देह व्‍यापार का धंधा चल रहा है। पुलिस ने बुधवार देर शाम संयुक्त टीम बनाकर इस मकान पर छापा मारा। जहां कुछ लोग आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए। जिसके बाद एसओजी ने तुरंत मकान को घेर चार महिलाओं और चार पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पकड़े गए आरोपियों का नाम अनारूल शेख निवासी कोलकाता, अली हैदर निवासी करीमगंज आसाम और काठगोदाम नई बस्ती निवासी शादाब व फैजल खान उर्फ शाहरूख है। वहीं, एक महिला दिल्ली व दूसरी कोलकाता की है। टीम में एसओजी प्रभारी नंदन स‍िंह रावत, एंटी हृयूमन ट्रैफिकिंग सेल की प्रभारी लता बिष्ट, एसओजी जवान अशोक रावत के अलावा लक्ष्मी वर्मा आदि शामिल थे।