नेपाल विमान हादसे का ‘ब्लैक बॉक्स’ बरामद, जल्द सामने आयेगा हादसे का कारण

0
82
nepal plane crash news

Uttarakhand Devbhoomi Desk: नेपाल के पोखरा में रविवार को हुए विमान हादसे के बाद से लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। अब तक रेस्क्यू ऑपरेशन टीम (nepal plane crash news) ने 68 शव बरामद कर लिए है। जिसमें पांच भारतीय भी शामिल हैं। इस बीच एक और अपडेट सामने आया है कि 72 लोगों को लेकर दुर्घटनाग्रस्त हुए यति एयरलाइंस के विमान का ‘ब्लैक बॉक्स’ भी मिल गया है। अब इसकी जांच कर हादसे की असल वजह पता चलेगी। वहीं चार लोगों के शव अभी भी लापता है। उनकी भी तलाशी की जा रही है।

ये भी पढ़ें:
ukpsc patwari exam
पटवारी भर्ती पेपर लीक मामले में आयोग का बड़ा फैसला, अब ऐसे होगी परीक्षा

nepal plane crash news: नेपाल में एक दिन का राष्ट्रीय शोक

वहीं विमान हादसे को लेकर नेपाल में आज एक दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया है। उधर, पीएम मोदी और विदेश मंत्री जयशंकर ने (nepal plane crash news) भी इस दर्दनाक हादसे पर दुख जताया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि, “नेपाल में दुखद हवाई दुर्घटना से बहुत दुख हुआ, जिसमें भारतीय नागरिकों सहित कीमती लोगों की जान चली गई। इस दुखद घड़ी में, मेरी प्रार्थनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं।”

जानकारी के मुताबिक, यति एयरलाइंस के 9N-ANC ATR-72 विमान ने काठमांडू के त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से रविवार सुबह करीब 10:33 बजे उड़ान भरी और लैंडिंग से कुछ मिनट पहले ही सेती नदी के तट पर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। बता दें कि उस विमान में सवार 72 के 72 लोग मारे गए। इनमें से अभी तक 68 लोगों के शव ही बरमाद हुए हैं। 

ये भी पढ़ें:
roorkee crime news
बेटे-बहू के झगड़े में मां की मौत, आखिर कैसे? 

पांच भारतीयों की हुई पहचान
दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान में कुल 5 भारतीय यात्री थे। जानकारी के मुताबिक (nepal plane crash news) सभी यात्री उत्तर प्रदेश से थे जो पोखरा के पर्यटक केंद्र में पैराग्लाइडिंग गतिविधियों में भाग लेने जा रहे थे। ऐसे में सभी पांच भारतीयों की पहचान अभिषेक कुशवाहा (25), विशाल शर्मा(22), अनिल कुमार राजभर( 27), सोनू जायसवाल (35) और संजय जायसवाल के रूप में हुई है।

क्या है ब्लैक बॉक्स?
ब्लैक बॉक्स एक फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर है जो सभी उड़ान जानकारी रिकॉर्ड करता है। किसी भी विमान हादसे के कारण का पता लगाने के लिए दो डिवाइस का मिलना बहुत जरूरी होता है। एयरक्राफ्ट का फ्लाइट डाटा रिकॉर्डर (एफडीआर) और कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर (सीवीआर), इसे ही ‘ब्लैक बॉक्स’ कहते है।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com