Manish Tiwari ने कहा, ‘हम कोई Congress के किरायेदार नहीं, बल्कि पार्टी सदस्य हैं’

0
75

दिल्ली ब्यूरो- बीते शुक्रवार को Congress के कद्दावर नेता कहे जाने वाले गुलाम नबी आजाद ने सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा दे दिया। जिसके बाद अब राज्यसभा सांसद Manish Tiwari ने अपनी पार्टी Congress को फिर से नसीहत दे डाली है। उन्होंने कहा कि जी-23 के द्वारा कांग्रेस सुप्रीमो को पार्टी की स्थिति को लेकर चिट्ठी लिखी गई थी, लेकिन उस पर पार्टी ने ध्यान नहीं दिया।

उन्होंने कहा इस बात पर ध्यान दिया होता तो Congress को ऐसी स्थिति  का सामना नहीं करना पड़ता। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी का कोई किरायेदार नहीं हूं, बल्कि सदस्य हूं।

manish tiwari congress

Congress की स्थिति ठीक नहीं है

Manish Tiwari के द्वारा कहा गया कि ‘2020 में पार्टी के  23 नेताओं ने सोनिया गांधी (sonia gandhi) को एक पत्र लिख कर यह बात कही थी कि जो पार्टी की स्थिति है वो ठीक नहीं  है। इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है। जो पत्र लिखा उसके बाद  कांग्रेस को सभी विधानसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा।”
sonia gandhi
Sonia Gandhi के आवास पर बैठक हुई 
Manish Tiwari ने कहा कि 20 दिसंबर 2020 को जब सोनिया गांधी (sonia gandhi) के आवास पर बैठक हुई थी, तब अगर सहमति बन जाती तो आज जिस स्थिति का कांग्रेस को सामना करना पड़ रहा है वो नही करना पड़ता। उन्होंने आगे कहा कि, “गुलाम नबी आजाद ने जो इस्तीफे में लिखा उसकी अच्छाई और बुराई पर मुझे नही जाना। वह खुद ही इस स्थिति को समझा सकते है”।

मुझे किसी से सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नही

Manish Tiwari ने कहा गया कि ”जिस व्यक्ति की हैसियत इतनी भी नही है कि वो वार्ड चुनाव लड़े, जब ऐसे नेता पार्टी को ज्ञान देते हैं तो हंसी आती है इसके अलावा उन्होंने कहा कि उन्हें किसी से सर्टिफिकेट लेने की कोई जरूरत नही है।
manish congress

हम कोई कांग्रेस के किराएदार नहीं हैं

Manish Tiwari  ने कहा कि मैं इस पार्टी में 42 साल से शामिल हूं। मैंने इस बात का पहले भी जिक्र किया कि हम कोई कांग्रेस के किराएदार नहीं हैं हम इस पार्टी के सदस्य हैं। लेकिन अगर आप हमें बाहर निकालना चाहते हैं तो यह दूसरी बात है। तब देखा जाएगा कि क्या होता है।