इजराइल में युद्ध के हालात, ‘हमास’ ने 3 शहरों पर दागे रॉकेट 

0
170
ISRAEL HAMAS CONFLICT
ISRAEL HAMAS CONFLICT

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK:इजरायल में इस समय युद्ध जैसे हालात बनते दिख रहें हैं क्योंकि लंबे समय से चला आ रहा ISRAEL HAMAS CONFLICT अब और भी उग्र होता दिख रहा है। जानकारी के अनुसार फिलिस्तीनी संगठन हमास ने इजराइल के तीन शहरों पर रॉकेट अटैक कर दिया है। दावा किया जा रहा है कि हमास ने 5000 से ज्यादा रॉकेट दागे हैं।

आज यानि शनिवार सुबह करीब 8 बजे राजधानी तेल अवीव, स्देरोट और अश्कलोन शहर में रॉकेट दागे गए हैं। बताया जा रहा है कि ये रॉकेट रिहायशी इमारतों पर गिरे हैं। जिसके कारण 5 लोगों की मौत हो गई है और 100 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। 

वहीं हमास ने दावा किया है कि उसने इजराइल पर 5 हजार रॉकेट्स से हमला किया है। एक रिपोर्ट के अनुसार हमास ने इन हमलों की जिम्मेदारी ली है और साथ ही इजराइल के खिलाफ मिलिट्री ऑपरेशन शुरू करने का ऐलान किया है। जिसके जवाब में इजराइल की सेना ने भी कहा है कि वो भी जंग के लिए तैयार है। सेना ने अपने सैनिकों के लिए ‘रेडिनेस फॉर वॉर’ का अलर्ट जारी किया है।

ISRAEL HAMAS CONFLICT
ISRAEL HAMAS CONFLICT

इजराइली सेना से मिली जानकारी के अनुसार बड़ी संख्या में फलस्तीनी उग्रवादियों ने गाजा पट्टी से इजराइल में घुसपैठ की है और इसके अलावा सेना ने सीमावर्ती इलाकों में ISRAEL HAMAS CONFLICT के चलते लोगों को अपने घरों में रहने का आदेश दिया गया है।

क्या है ISRAEL HAMAS CONFLICT?

मिडिल ईस्ट के अंतर्गत आने वाले इलाके में यह ISRAEL HAMAS CONFLICT पिछले करीब 100 साल से चल रहा है। यहां वेस्ट बैंक, गाजा पट्टी और गोलन हाइट्स जैसे इलाकों पर मालिकाना हक का विवाद है। बता दें कि फिलिस्तीन इन इलाकोंके अलावा पूर्वी यरुशलम पर भी मालिकाना हक का दावा करता  है। वहीं दूसरी ओर इजराइल यरुशलम को अपना हिस्सा बताता है।

दोनों देशों के बीच साल 2021 से ISRAEL HAMAS CONFLICT तब आरंभ हो गया था, जब इजरायल के सैनिकों ने पूर्वी यरुशलम के हराम अल शरीफ नाम की जगह में स्थित ‘अल अक्सा मस्जिद’ पर हमला कर दिया था। ये अल अक्सा मस्जिद मुसलमानों के लिए मक्का और मदीना के बाद विश्व में तीसरा सबसे पवित्र स्थान माना जाता है।

एक अन्य विवादित भूमि गाजा पट्टी इजराइल और मिस्र के बीच में है। इस इलाके में फिलहाल हमास का कब्जा है। ये इजराइल विरोधी समूह है। विरोध के चलते सितंबर 2005 में इजराइल ने गाजा पट्टी से अपनी सेना वापस बुला ली थी।  इजराइल ने 2007 में इस इलाके पर कई प्रतिबंध लगा दिए। वहीं इस इलाके को लेकर फिलिस्तीन का कहना है कि वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी में स्वतंत्र फिलिस्तीन राष्ट्र की स्थापना हो।

हमास क्या है 

हमास का गठन 1987 में मिस्र तथा फिलिस्तीन के मुसलमानों ने मिलकर की थी। हमास का मुख्य उद्धेश्य वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी क्षेत्र में इजराइली प्रशासन की जगह पर इस्लामिक शासन की स्थापना करना था। बता दें कि हमास का प्रभाव गाजा पट्टी में अधिक है। हमास के सशस्त्र विभाग का गठन 1992 में हुआ था।

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज