Friday, September 23, 2022
HomeCrimeIAS Rambilas Yadav: 5 माह बाद विजिलेंस के सामने आई पत्नी कुसुम...

IAS Rambilas Yadav: 5 माह बाद विजिलेंस के सामने आई पत्नी कुसुम ने खोले ये राज, ये जमानत भी लाई साथ

Uttarakhand News- Dehradun Bureau: IAS Rambilas Yadav Case देहरादून, ब्यूरो। उत्तराखंड के सचिवालय में तैनात आईएएस रामबिलास यादव (IAS Rambilas Yadav) 31 मार्च 2022 को रिटायर और इसके बाद 23 जून 2022 से सलाखों के पीछे सजा काट रहे हैं। आय से कई गुना अधिक संपत्ति के मामले में उन्हें विजिलेंस ने पहले पूछताछ के लिए बुलाया फिर गिरफ्तार कर लिया। रामबिलास (IAS Rambilas Yadav) विजिलेंस के समक्ष आने और पूछताछ के लिए टालमटोल करते रहे। इसके बाद हाईकोर्ट से स्टे लेने की कोशिश में थे, लेकिन विजिलेंस ने उन्हें अरेस्ट कर जेल भेज दिया। अब उनकी पत्नी भी गिरफ्तारी के डर से सामने आई हैं।

गिरफ्तारी के बाद IAS Rambilas Yadav ने पूछताछ में आय से अधिक संपत्ति की सारी जानकारी पत्नी कुसुम यादव को होने की बात कही थी। अब उनकी पत्नी कुसुम भी 5 माह से अधिक समय बाद एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट की अग्रिम जमानत साथ लेकर विजिलेंस दफ्तर देहरादून पहुंची। विजिलेंस की टीम ने आय से अधिक सम्पत्ति को लेकर उनसे चार से पांच घंटे तक करीब 300 सवाल किए। कई ऐसे सवाल पहले रिटायर्ड आईएएस रामबिलास से भी विजिलेंस ने किए थे। विजिलेंस इस मामले में तफ्तीश में जुट गई है।

IAS Rambilas Yadav Case

 

 

यह भी पढ़ें: Disproportionate Assets: 3 सालों में पूर्व आईएएस रामविलास यादव ने बना ली 2600 फीसदी अधिक संपत्ति

यह भी पढ़ें: भ्रष्ट के साथ अय्याश भी थे राम विलास? PCS से ऐसे बने IAS, पत्नी के रहते रचाई दूसरी शादी

IAS Rambilas Yadav ने UP और UK में किए बड़े खेल?

दरअसल, उत्तराखंड में आने से पहले उत्तर प्रदेश में भी रामबिलास ने लखनऊ विकास प्राधिकरण समेत कई विभागों में भी बड़े स्तर पर खेल करने की बात सामने आई। इसके बाद यूपी सरकार ने उत्तराखंड में प्रति नियुक्ति पर आए आईएएस रामबिलास की जांच के लिए उत्तराखंड सरकार को पत्र लिखा। लखनऊ विकास प्राधिकरण के साथ ही उत्तराखंड के तमाम विभागों में महत्वपूर्ण पदों पर रहे रामबिलास यादव को अरेस्ट कर विगत 23 जून को जेल में डाल दिया गया था।

IAS Rambilas Yadav Case

अग्रिम जमानत लेकर अचानक विजिलेंस दफ्तर पहुंची पत्नी कुसुम यादव

रामबिलास (IAS Rambilas Yadav) की पत्नी कुसुम यादव 1 दिन पहले सुप्रीम कोर्ट की अग्रिम जमानत लेकर अचानक विजिलेंस दफ्तर पहुंची। गिरफ्तारी के डर से कुसुम यादव ने विजिलेंस के समक्ष पहुंच कर अपने बयान दर्ज कराए। 4 से 5 घंटे की पूछताछ में कई राज उन्होंने विजिलेंस से साझा किए। हालांकि रामविलास यादव की गिरफ्तारी के बाद उनके अलग-अलग बैंक खातों और लॉकर खाली होने को लेकर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं।

विगत 22 जून को IAS रामबिलास (IAS Rambilas Yadav) को विजिलेंस ने गिरफ्तार कर 23 जून को जेल भेज दिया था। यादव (IAS Rambilas Yadav) ने अपनी पत्नी कुसुम यादव (Kusum Yadav) को संपत्ति के बारे में सारी जानकारी होने की बात कही थी। कुछ दिन पहले उनके बेटा और बेटी भी विजिलेंस के समक्ष आए थे। उन्होंने भी सारी जानकारी अपनी मां को होने की बात कही।

IAS Rambilas Yadav Case Disproportionate Assets

इस संबंध में एसएसपी विजिलेंस धीरेंद्र गुंज्याल ने जानकारी देते हुए बताया कि रिटायर्ड आईएस रामबिलास (IAS Rambilas Yadav) की पत्नी कुसुम यादव सुप्रीम कोर्ट से अग्रिम जमानत लेकर विजिलेंस दफ्तर पहुंची थीं। इसके बाद करीब 4 से 5 घंटे तक उनसे तमाम सवालों के जवाब और संपत्ति के बारे में पूछताछ की गई। हालांकि फिर विजिलेंस ने उन्हें सलाखों के पीछे डालने की बजाय घर भेज दिया। मामले की अभी भी जांच में विजिलेंस तमाम दस्तावेजों को खंगाल रही है।

ramvilas

IAS Rambilas Yadav की पत्नी को 24 से ज्यादा समन भेजे, फिर भी नहीं आईं 

दरअसल, विजिलेंस काफी लंबे समय से रिटायर्ड आईएएस रामबिलास यादव की पत्नी कुसुम यादव को प्रस्तुत होने के लिए समन भेज रही थी। 24 से ज्यादा समन भेजने के बाद भी पांच माह से अधिक समय के बाद विजिलेंस दफ्तर वह नहीं पहुंची। अब एक दिन पहले गिरफ्तारी के भय से सुप्रीम कोर्ट की जमानत साथ लेकर वह विजिलेंस दफ्तर में अपने बयान दर्ज करवाने पहुंची। संपत्तियों को लेकर कुछ खास जानकारियां कुसुम ने विजिलेंस को साझा की हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular