दाढ़ी बढ़ाने वाले युवकों की नहीं होगी शादी- इस जिले में निकला फरमान, क्लीन शेव में ही दूल्हा ले सकेगा फेरे

0
305
शादी

दिल्ली, ब्यूरो : बदलते दौर में फैशन भी बदलता जा रहा है, आजकल युवाओं में दाढ़ी को लेकर अलग ही क्रेज देखने को मिल रहा है। दाढ़ी  मेनटेन करने के लिए मार्केट में अलग-अलग तरह के प्रोडक्ट्स भी आ रहे हैं। लेकिन राजस्थान के एक गांव में दाढ़ी बढ़ाने के चक्कर में युवक ज़िंदगी भर कुवारे भी रह सकते हैं। दरअसल राजस्थान के पाली जिले में कुमावत समाज के लोगों के दुल्हे की दाढ़ी को लेकर नया फरमान जारी किया है। जिसमें साफ-साफ लिखा है कि अगर दूल्हा क्लीन शेव में नहीं होगा तो वो फेरे नहीं ले सकेगा।

राजस्थान के पाली जिले में रहने वाले कुमावत समाज ने एक बैठक कर यह प्रस्ताव पारित किया है। प्रस्ताव में साफ-साफ लिखा गया है कि अगर दूल्हा क्लीन शेव में नहीं होगा तो वो फेरे नहीं ले सकेगा। कुमावत समाज के 19 गांवों के प्रतिनिधियों ने एक सभा का आयोजनव कर इस नए नियम से संबंधित प्रस्ताव को पारित किया है। तो अब गांव में किसी भी परिवार में अगर शादी होगी तो दूल्हे का क्लीन शेव रहना जरुरी होगा। ये भी पढ़े-Shark v/s Dolphin: क्या शिकारी Shark का शिकार कर सकती हैं क्यूट Dolphin?

दूल्हे की क्लीन शेव को लेकर समाज के लोगों ने अपना तर्क भी पेश किया है। समाज के लोगों का कहना है कि शादी के दौरान हमें फैशन से कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन विवाह एक संस्कार है और दूल्हे को इसमें राजा के रूप में देखा जाता है। समाज के लोगों का कहना था कि दूल्हे कई तरह से दाढ़ी बढ़ाकर रस्में निभाते हैं, जो की समाज के लिए अशोभनीय है। साथ ही इस प्रस्ताव में ये भी कहा गया है कि अगर किसी दूल्हे ने शादी के दौरान उनके इस नए नियमों को नहीं माना तो उसे दंड दिया जाएगा। जहां दंड के तौर पर उसे समाज से निकाला जा सकता है। ये भी पढ़े-बुलडोजर पर SC ने रोक से किया इनकार, यूपी सरकार से तीन दिन के अंदर मांगा जवाब