Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep: बाढ़ को लेकर हुई बैठक में सोते हुए नजर आए कर्नाटक के मंत्री

0
33

Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep : राजधानी बेंगलुरु के हालात ख़राब

Political news desk : कर्नाटक में इस वक्त भारी बारिश हो रही है जो कि समस्या बन गई है। वहीं राजधानी बेंगलुरु के हालात बहुत ही ज्यादा ख़राब हो रहे है।(Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep) बुरे हालात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि लोग आने-जाने के लिए ट्रैक्टर का उपयोग कर रहे हैं। इस बीच कर्नाटक कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक तस्वीर साँझा की है जिसमे मंत्री आर अशोका का मजाक बनाया जा रहा है। कांग्रेस के द्वारा कहा गया कि जब राज्य में जल संकट को लेकर गंभीर बैठक हुई तब आर अशोका के द्वारा नींद का आनंद लिया जा रहा था।

कांग्रेस के द्वारा तस्वीरें शेयर की गई

Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep

आपको बता दें कि कांग्रेस के द्वारा दो तस्वीरें शेयर की गई हैं। उनमें जो मंत्री आर अशोका है वो मुख्यमंत्री के पास वाली कुर्सी पर बैठे दिखाई दे रहे हैं और उनकी आंखें बंद नजर आ रही हैं। ऐसा दिखाई दे रहा है जैसे कि वो सो रहे हैं। हालांकि इस बात की अभी कोई पुष्टि की गई है।

यह भी पढ़ें: BJP MLA Aravind Misbehaves With Woman : बीजेपी विधायक से सवाल पूछने पर महिला को जाना पड़ा जेल, देखें वीडियो

Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep: ‘मंत्री जी नींद में डूबे जा रहे हैं’

Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep

कांग्रेस के द्वारा इस तस्वीर को शेयर किया गया और ट्वीट को कन्नड़ में लिखा, कि जो डूबना होता है वह कई तरीके का होता है। (Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep) राज्य इस वक्त बारिश में डूबे जा रहा है और जो मंत्री जी है वो नींद में डूबे जा रहे हैं। आपको बता दें कि आज आर अशोका के द्वारा बैठक की इस तस्वीर को ट्विटर पर शेयर किया गया।

भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

Congress Mocks Karnataka Minister Over Sleep

इस दौरान भाजपा और कांग्रेस के बीच आपस में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। मुख्यमंत्री के द्वारा कहा गया है कि राज्य में जो यह स्थिति है। उसके लिए पहले की कांग्रेस पार्टी जिम्मेदार है। उनके द्वारा कहा गया कि पिछले 90 साल में इस तरह की बारिश कभी नहीं हुई है। यह समस्या पूरे बेंगलुरु राज्य में नहीं हो रही है बल्कि सिर्फ दो क्षेत्रों में हो रही है।