चारधाम यात्रा : आफत में फंसी कई जान, बीमार तीर्थ यात्रियों को किया जा रहा एयरलिफ्ट

0
76

 

रुद्रप्रयाग ( नरेश भट्ट ) :  केदारनाथ यात्रा के दौरान गंभीर रुप से बीमार तीर्थयात्रियों को एयरलिफ्ट किया जा रहा है। अभी तक 60 से ज्यादा बीमार और खाई में गिरने वाले यात्रियों को रेस्क्यू कर एयरलिफ्ट किया गया है। जिला प्रशासन की ओर से तीर्थयात्रियों के स्वास्थ्य को देखते  हुए उन्हें ज्लद इलाज मुहैया करवाया जा रहा है। बता दें कि अभी तक केदारनाथ यात्रा में 23 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है। जहां 22 तीर्थ यात्रियों की हार्ट अटैक से मौत हुई हैं, वहीं एक तीर्थ यात्री की मौत खाई में गिरने से हुई है।

Capture 10

दरसअल गौरीकुंड से केदारनाथ धाम की दूरी 19 किमी है और यहां पैदल चलने में काफी दिक्कतें होती हैं। दूसरी ओर धाम में हर दिन दोपहर बाद मौसम खराब हो रहा है, जहां बारिश होने से ठंड बढ़ रही है। लेकिन इसके बाद भी तीर्थयात्री बचाव को लेकर पूरे संसाधनों के साथ नहीं पहुंच रहे हैं जिस वजह से उन्हें और भी दिक्कत हो रही है। स्वास्थ्य विभाग ने तीर्थयात्रियों के लिए एडवाइजरी भी जारी की है, लेकिन तीर्थयात्री अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित नहीं दिखाई दे रहे हैं।

शुक्रवार को केदारनाथ धाम में घोड़े पर बैठक कर दर्शन करने जा रहे विनोद कुमार लिनचोली में अचानक पेड़ से टकरा गए। जिसके बाद उनके पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होने लगा। आनन-फानन में घायल को स्वामी विवेकानंद धर्मार्थ चिकित्सालय आधार शिविर केदारनाथ में पहुंचाया गया। और प्राथमिक उपचार के बाद विनोद कुमार की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हे एयर लिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश के लिए रेफर किया गया। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कि केदारनाथ धाम में दर्शन करने आ रहे श्रद्धालुओं का स्वास्थ्य खराब होने पर स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक त्तपरता के साथ उनका उपचार कर रहे हैं। यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक पर्याप्त मात्रा में डॉक्टरों की तैनाती की गई है।

चारधाम यात्रा : आफत में फंसी कई जान, बीमार तीर्थ यात्रियों को किया जा रहा एयरलिफ्ट