अरिस्टो फार्मा दवा कंपनी का लाखों रुपये लेकर भाग रहा था मैनेजर, पुलिस ने धर दबोचा

0
449
aristo pharma

Aristo Pharma दवा कंपनी को चूना लगाने को मैनेजर था तैयार, पुलिस ने किया गिरफ्तार

दवा की एक बहुत पुरानी मशहूर कंपनी है Aristo Pharma जिसके निदेशक ने आज पुलिस को सूचना दी कि उनके कंपनी के एक मैनेजर ने करीब 35 लाख रुपए की हेराफेरी करने की कोशिश की और वो यह पैसे लेकर भागने की फिराक में है। इस सूचना के मिलते ही तुरंत पुलिस हरकत में आई और उसने उस मैनेजर को धर दबोचा। पुलिस ने रुपयों से भरा बैग बरामद कर लिया है। यह मामला लखनऊ का है जहां कंपनी का आफिस ट्रांसपोर्ट नगर में स्थित है। मैनेजर आफिस से बैग में रुपया लेकर दिल्ली भागने की फिराक में था।

Aristo Pharma का जालसाज मैनेजर करता था हेराफेरी,दवा के स्टॉक को एक्स्पायरी बताकर लगा रहा था चूना

aristo pharma

लखनऊ स्थित Aristo Pharma के मैनेजर जितेंद्र को कृष्ण नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वह कंपनी का पैसा लेकर भागने की तैयारी कर रहा था और इस बीच कंपनी के निदेशक रणजीत शर्मा की सूचना पर केसरी खेड़ा फाटक के पास से इंस्पेक्टर कृष्णा नगर विक्रम सिंह और उनकी टीम ने उसे धर दबोचा।

निदेशक ने बताया हमारी यहाँ ट्रांसपोर्ट नगर में एक शाखा है जिसका सारा दारोमदार जितेंद्र पर था लेकिन उसने बेईमानी की और दवा विक्रेताओं के साथ मिलीभगत करके स्टॉक में रखी दवाओं को एक्स्पायरी बता कर कंपनी में हेराफेरी कर रहा था और कंपनी को लगातार घाटा हो रहा था। जब जांच कराई गयी तो मैनेजर जितेंद्र दोषी पाया गया। इसी दौरान वो पैसे लेकर भागने का प्लान बनाने लगा जो कामयाब नहीं हो पाया।

ये भी पढ़ें लखनऊ में पति ने बीच सड़क पर पत्नी को पीटा, 6 महीने पहले प्रेम जाल में फंसा कर कराया था धर्म परिवर्तन

Aristo Pharma के मैनेजर ने 3 साल में किया करोड़ों का गबन, 35 लाख बरामद

Aristo Pharma कंपनी के निदेशक ने बताया कि जितेंद्र इसके पहले उनके गुजरात आफिस में मैनेजर था और वहां ठीक से काम करता था। उसको लखनऊ आए 3 साल ही हुआ और यहां आते ही वो जालसाजी करने लगा और सिर्फ 3 साल में करोड़ों का गबन कर दिया। फिलहाल पुलिस अपनी जांच कर रही है।

For Latest Uttar Pradesh News Subscribe devbhoominews.com