Akhilesh Yadav, Nitish kumar के लिए हुए नरम, सियासी माहौल हुआ गरम

0
55
akhilesh yadav

अखिलेश की जुबानी: आज दिल्ली में एक मुलाकात शिष्टाचार और कुशलक्षेम के नाम।”

Akhilesh Yadav का नया दांव, नितीश से मुलाकात क्या है असली बात

भाजपा का साथ छोड़कर बिहार में नयी सरकार बनाने वाले नितीश कुमार विपक्षी दलों को भाजपा के खिलाफ एकजुट करने के लिए जीजान से जुट गए हैं. इसी कड़ी में उन्होंने मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव से मुलाकात की। मंगलवार को विपक्ष को मजबूती देने के इरादे से नितीश कुमार दिल्ली बॉर्डर से ही यूपी को छू गए और सियासी माहौल गरम कर गए।

Akhilesh Yadav और Nitish kumar का एक ही नारा,बीजेपी को सत्ता से दूर भगाना

akhilesh yadav

जहां एक ओर NDA से मोहभंग होने के बाद नितीश सारे विपक्षी दलों को एकजुट करने में जुट गए हैं वैसे ही Akhilesh Yadav भी हर बार कई मंचों से बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए विपक्ष का साथ मांग चुके हैं. इस मुलाकात के मायने भले ही शिष्टाचार के रूप में देखा जा रहा है लेकिन Akhilesh Yadav ने इशारे ही इशारे में राष्ट्रीय फलक पर अपना कद बढ़ा रहे और स्वयं खुद को प्रधानमंत्री उम्मीदवार घोषित कर चुके नितीश के करीब जाने की कवायद में लगे हुए हैं.

ये भी पढ़ेंUP Aligarh News : अलीगढ़ की रूबी आसिफ खान ने पुलिस सुरक्षा में किया गणेश विसर्जन

Akhilesh Yadav और Nitish kumar दोनों बीजेपी के खिलाफ हमकदम बनने को तैयार 

लोकसभा 2024 की कवायद में दोनों अखिलेश और नितीश जी जान से जुट गए हैं जहां दोनों का एक ही मक़सद है विपक्ष को एकजुट करना और बीजेपी को सत्ता से दूर रखना। इसी कड़ी में नितीश कुमार अस्पताल में भर्ती मुलायम सिंह यादव को देखने गुरुग्राम पहुंचे और साथ ही अखिलेश यादव से भी मुलाकात की। इस मुलाकात को भले ही सामान्य रूप में देखा जा रहा लेकिन राजनीतिक पंडित इसे यूपी बिहार के राजनीतिक भविष्य से जोड़ कर देख रहे हैं.

अभी नितीश कुमार के सियासी मिशन में अखिलेश यादव की official entry भले ना हुई हो, लेकिन इस मुलाकात का संकेत है कि लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भाजपा के खिलाफ महागठबंधन यूपी में समाजवादी पार्टी के नेतृत्व में परवान चढ़ेगा।

For Latest News of Uttar Pradesh Subscribe devbhoominews.com