राजधानी दून से जुड़ा है देश के संविधान का इतिहास

0
374
74th Republic Day

Uttarakhand Devbhoomi Desk: आने वाला कल प्रत्‍येक भारतीयों के लिए बेहद खास दिन है। कल भारत देश अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाने (74th Republic Day) जा रहा है। 26 जनवरी, 1950 को ही भारत देश का संविधान लागू हुआ था। इस संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था।

बरसों तक अंग्रेजों की गुलामी सहने के बाद सन् 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने (74th Republic Day) भारत की पूरी तरह से आजादी की घोषणा की थी। आपको बता दें कि इसी भारतीय संविधान को दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान माना जाता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि दुनिया के सबसे बड़े संविधान का इतिहास राजधानी दून से जुड़ा हुआ है। आईये जानते है कैसे।

यह भी पढ़े:
tharali news today
ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों का धरना जारी, अब ukd ने भी दिया समर्थन

74th Republic Day: यहां छपी थीं पहली कॉपी

भारत का संविधान प्रकाशित करने में देहरादून के सर्वे ऑफ इंडिया का अहम योगदान रहा है। जी हां आपको बता दें कि भारतीय संविधान की पहली कॉपी उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के सर्वे ऑफ इंडिया (74th Republic Day) की प्रेस में छापी गई थीं।

उस दौरान संविधान की एक कॉपी आज भी सर्वे ऑफ इंडिया के म्यूजियम में मौजूद है। आपको यह भी बता दें कि (74th Republic Day) संविधान की पहली मूल प्रति हाथ से लिखी गई थी। जो आज भी नई दिल्ली के नेशनल म्यूजियम में सुरक्षित है। दिल्ली निवासी प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने इस मूल प्रति को हाथ से लिखा था।

यह भी पढ़े:
republic day 2023
इस गणतंत्र दिवस पर पाएं देश सेवा का मौका, करें इन नौकरियों के लिए आवेदन

74th Republic Day: ऐसे तैयार हुआ था संविधान

देश में आज जिस संविधान के अनुसार कार्य किया जा रहा है, वह डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने तैयार किया था जिन्हें भारतीय संविधान के वास्तुकार के रूप में जाना जाता है।

  • सन् 1946 में 389 सदस्य के साथ संविधान सभा की स्थापना हुई। उसके बाद,
  • 11 दिसम्बर, 1946 को डा. राजेन्द्र प्रसाद को संविधान सभा का चेयरमैन चुना गया।
  • उसके बाद सदस्यों की संख्या घट कर 299 रह गई।
  • फिर, डा.बीआर अम्बेडकर ड्राफ्टिंग कमेटी के चेयरमैन बने।
  • और 26 जनवरी, 1950 देश के संविधान तैयार होकर, अस्तित्व में आया।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com