4 घंटे में रुपये दोगुने करने का झांसा दिया और लूट लिए 13 लाख, हिस्ट्रीशीटर समेत 6 अरेस्ट

पुलिस ने आरोपियों से चोरी के आठ लाख रुपये, दोनाली बंदूक, कार, नोटनुमा कागज के टुकड़े और पारदर्शी शाीशा किया बरामद

रुद्रपुर, ब्यूरो। उत्तराखंड शातिर अपराधी लोगों को ठगने के लिए नए-नए तरीके इजाद कर रहे हैं। एक मां-बेटे को ऐसा ही चार दिन में पैसे दोगुने करने का झांसा दिया गया और कनाडा घुमने का भी लालच। ऊधमसिंह नगर के खटीमा क्षेत्र में एक मां-बेटे को कुछ ठगों ने ऐसे ही झांसे में लिया और पहले तो रुपये दोगुने करने का झांसा दिया बाद में सभी ने मिलकर बंदूक की नोक पर करीब 13 लाख रुपये ठग लिए। गिरफ्तार आरोपियों से आठ लाख रुपये, दोनाली बंदूक, कार, नोटनुमा कागज के टुकड़े, पारदर्शी शीशा बरामद किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों में एक बदमाश हिस्ट्रीशीटर भी है।

जानकारी के अनुसार ऊधमसिंह नगर जिले के खटीमा रोड वार्ड संख्या 7 निवासी अमरीक सिंह पुत्र बगीचा सिंह ने एक दिन पहले बुधवार को पुलिस को तहरीर देकर बताया कि कुछ दिनों पहले उन्होंने अपनी जमीन बेची थी। इसकी भनक उसके परिचित टुकड़ी गांव निवासी करनैल सिंह, उसकी पत्नी कुलविंदर कौर और बनगवां थाना खटीमा निवासी उसके साथी इंद्रपाल सिंह को भी लग गई। पैसे हड़पने के लिए दोनों उसे रुपये दोगुना करने का लालच देते थे। पैसे दोगुने होने पर कनाडा घूमाने का सपना भी पूरा करने का झांसा देते थे। इनके झांसे में अमरीक ने अपनी मां गुरमीत कौर के साथ विगत एक मई को आरोपियों से मिले और रुपये दोगुनी करने का सामान लाने के नाम पर 50 हजार रुपये दिए। ठगों ने इन रुपयों को एक शीशे के बॉक्स में रखकर दोगुने करने की बात कही। उनके झांसे में आकर अमरीम ने ठगों को एक बार दो और इसके बाद फिर तीन लाख रुपये देने के बाद 31 मई को आठ लाख और दे दिए। ठगों ने एक कपड़े में बांधकर शीशे के डिब्बे के ऊपर रख चार घंटे में रुपये दोगुने होने की बात कही। करीब 12ः30 बजे कार संख्या यूके 07 बीएम 9065 पर सवार हथियारबंद तीन लोग आ धमके। वह रुपए बंधी गठरी उठा ले जाने लगे। विरोध करने पर आरोपियों ने उसे व उसकी मां गुरमीत कौर के साथ बंदूक की नोक पर मारपीट की और पैसे लेकर फरार हो गए। पुलिस ने आरोपी करनैल सिंह, कुलविंदर कौर, इंद्रपाल सिंह सहित तीन अन्य के खिलाफ धारा सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू की। एसएसपी ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल घटना की जांच पड़ताल कर आरोपियों की धरपकड़ के निर्देश दिए। जिसके बाद नानकमत्ता थाना अध्यक्ष केसी आर्य के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया और आज सभी आरोपियों को 8 लाख रुपये की नकदी, बंदूक, कार समेत अन्य सामान के साथ अरेस्ट किया है।

मदरसे में पढ़ रहे नाबालिग छात्र का शव कमरे में फंदे से लटका मिला, सुसाइड नोट बरामद

यहां से चढ़े पुलिस के हत्थे…

नानकमत्ता थाना अध्यक्ष केसी आर्य के नेतृत्व में पुलिस टीम ने एक जून को सरोजा रोड थाना नानकमत्ता से घटना में शामिल आरोपितों वनगवा थाना खटीमा गैंग लीडर इंद्रपाल सिंह (40) पुत्र रमेश सिंह, ग्राम टुकड़ी थाना नानकमत्ता निवासी, हिस्ट्रीशीटर करनैल सिंह (59) पुत्र साईंया सिंह, नौगवां ठग्गू थाना खटीमा निवासी सोहन सिंह (35) पुत्र चिंता सिंह, विजयपुर पकड़िया चैकी मझोला थाना न्यूरिया, पीलीभीत यूपी निवासी बलविंदर सिंह (40) पुत्र संतोक सिंह, ग्राम रगुलिया थाना खटीमा निवासी गुरमेज सिंह (42) पुत्र भगवान सिंह, ग्राम टुकड़ी थाना नानकमत्ता निवासी कुलविंदर कौर (55) पत्नी करनैल सिंह गिरफ्तार कर लिया।

हैवानियतः 38 साल के मौलाना ने 12 साल की किशोरी से मदरसे में किया दुष्कर्म, ऐसे हुआ खुलासा