पौड़ी (संवाददाता- कुलदीप बिष्ट): पौड़ी में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं लेकिन यहां विधायक मुकेश कोली को ग्रामीणों का भारी विरोध झेलना पढ़ रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि विधायक बनने के बाद से विधायक ने कभी उनकी गांव की तरफ देखा तक नहीं लेकिन चुनाव नजदीक आते ही विधायक फिर से अपना चेहरा दिखाने लगे।

ग्रामीणों का आरोप है कि जिन समस्याओं को हरने के दावे विधायक ने किये थे वे आज भी जस की तस है। हालांकि विधायक ने विरोध कर रहे युवाओं को किसी दल का सर्मथक बताया है और विरोध को सोची समझी साजिश करार दिया है।

दरअसल चंद दिनों पहले विधायक के काफिले को केवर्स गांव के ग्रामीण युवाओं ने रोक डाला और विधायक को रोकने के बाद भी जब विधायक ने युवा ग्रामीणों की समस्या न सुनी तो आक्रोशित ग्रामीणों ने सोशल मीडिया में विधायक के काफिले को रोकने का वीडियों अपलोड कर डाला। ऐसे में विधायक की किरकिरी होने पर विधायक ने अपना बयान भी मीडिया के समक्ष रखा है विधायक की माने तो ये हरकत या तो उनकी पार्टी से उठ रहे दावेदारों के समर्थक की है या फिर अन्य दल के समर्थकों की।

मुकेश कोली का कहना है कि एक सोची समझी साजिश के तहत उनका विरोध किया गया। वहीं ग्रामीण युवाओं ने बताया कि विधायक 5 साल से लापता थे और अब चुनाव सर पर होने के चलते विधायक जिस तरह से जनता के बीच दोबारा से अपना वोट बैंक बढ़ाने के लिये पहुंच रहे हैं उससे युवा नाराज है। युवा ग्रामीणों ने कहा कि उनके गांव की सडक के हालत खस्ताहाल है, जबकि युवाओं के लिए खेल मैदान न होना और युवाओं के लिये रोजगार के अवसर पैदा न होना विधायक की नाकामी को दर्शा रहा है। यही वजह है कि विधायक का विरोध उन्हें करना पड़ा।

वहीं ग्राम प्रधान संगठन के अध्यक्ष कमल रावत ने बताया कि ग्राम प्रधानों ने विधायक को अपने गांव की  समस्याओं से कई बार अवगत भी कराया लेकिन विधायक ने एक न सुनी और अब ग्रामीणों का विरोध करना लाजमी भी है।

https://devbhoominews.com Follow us on Facebook at https://www.facebook.com/devbhoominew…. Don’t forget to subscribe to our channel https://www.youtube.com/devbhoominews

Leave your comment

Your email address will not be published.