फूलों की घाटी सैलानियों के लिए बंद, इस साल 13 हजार से ज्यादा सैलानी पहुंचे

0
107
VALLEY OF FLOWERS
VALLEY OF FLOWERS

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK: चमोली में VALLEY OF FLOWERS आज यानि मंगलवार को पर्यटकों के लिए बंद कर दी गई है। बताया जा रहा है कि इस साल 13,161 देशी और विदेशी सैलानी फूलों की घाटी पहुंचे। यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित किये गए इस स्थान में ये यात्रा इस साल 1 जून से शुरू हुई थी।

VALLEY OF FLOWERS
VALLEY OF FLOWERS

साल 2023 में उत्तराखंड में भारी बारिश हुई थी। जिससे बदरीनाथ हाईवे बार-बार बंद हुआ, इसके कारण यात्रा को बीच-बीच में बंद किया गया था। इसके कारण इस बार पिछले साल की अपेक्षा इस साल करीब सात हजार कम सैलानी पहुंचे।

VALLEY OF FLOWERS में साल दर साल सैलनियों की संख्या 

फूलों की घाटी में अगर साल दर साल सैलानियों की संख्या देखे तो 2019 में यहाँ पर 17548 सैलानी पहुँचे थे। इनमें 644 विदेशी पर्यटक भी थे। इसके बाद कोविड-19 से यात्रा प्रभावित हुई थी जिसकी वजह से साल 2020 में सिर्फ 10 विदेशियों के साथ 916 ही सैलानी पहुंचे। इसके बाद साल 2021 में संख्या 9404 तक पहुंची जिनमें 15 विदेशी शामिल थे। साल 2022 में संख्या में भारी इजाफा हुआ था, कुल मिलाकर 20827 पर्यटक फूलों की घाटी पहुंचे। इस साल यानि 2023 में ये संख्या 401 विदेशियों समेत 13161 पर्यटक पहुंचे।

ये भी पढिए-

ALL WEATHER RAOD RUDRAPRAYAG
ALL WEATHER RAOD RUDRAPRAYAG

बदरीनाथ राजमार्ग और रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग को जोड़ने वाली 910 मीटर सुरंग आर पार

फूलों की घाटी

VALLEY OF FLOWERS जाने का सबसे अच्छा समय जुलाई और अगस्त का महीना है। इस दौरान क्षेत्र में सबसे अधिक करीब 300 प्रजाति के फूल खिले होते हैं। घाटी में मुख्य रूप से ब्रह्मकमल, फेनकमल, ब्लूपॉपी, मारीसियस, मैरीगोल्ड, गोल्डन रॉड, जैस्मिन, रोवन, हेलमेट प्लावर, गोल्डन लीली सहित कई फूल खिलते हैं। इसके साथ ही यहां कई दुलर्भ प्रजाति के वन्य जीव हिम तेंदुआ, हिमालयन काला भालू, मोनाल, जंगली बिल्ली, कस्तूरी मृग आदि भी देखे जा सकते हैं।

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23

देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज